नया मोटर व्हीकल एक्ट 1 सितम्बर से होगा लागू, जानिए नए ट्रैफिक रूल्स

0

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मोटर वाहन (संशोधन) विधेयक 2019 को इस महीने के शुरुआत में ही मंजूरी दे दी थी। हाल ही में 2019 मोटर वाहन एक्ट लोकसभा और राज्यसभा में पास हुआ जिसमें ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन पर लगने वाले जुर्मानों में भारी इजाफा किया गया है। कुछ परिस्थितियों में चालान की राशि में 10 गुना तक की वृद्धि की गई है। मोटर व्हीकल एक्ट और बढ़े हुए चालानों को 1 सितम्बर से लागू किया किया जाएगा। इस बिल में ये सिफारिश की गई है कि ट्रैफिक नियम तोड़ने पर लगने वाले जुर्माने में सालाना 10 प्रतिशत की वृद्धि की जाए। बढ़े हुए जुर्माने के साथ  नए मोटर व्हीकल बिल में बाकी समस्याओं पर भी बात की गई जिनमें ड्राइविंग लायसेंस जारी करने, कैब एग्रिगेटर्स, इंश्योरेंस और वाहनों का रिकॉल शामिल हैं। नए कानून के तहत आपातकालीन वाहन को रास्ता न देने पे 10,000  तक का जुर्माना लगाया जायेगा|

राहुल गांधी के बदले सुर, भारत-पाकिस्तान पर दिया बयान

मोटर व्हीकल (संशोधित) बिल 2019 के अनुसार लागू हुए ये नए कानून इस प्रकार हैं।

(1) धारा 178 के अनुसार  अब बिना टिकट यात्रा करने पर 500 रुपये जुर्माना देना होगा

(2) धारा 179 के अनुसार  ऑथोरिटीज के आदेश नहीं मानने पर अब 2000 रुपये जुर्माना देना होगा.

(3) धारा 181 के अनुसार  बिना ड्राइविंग लाइसेंस के वाहन चलाने पर 5000 रुपये जुर्माना देना होगा.

(4) धारा 182 के अनुसार  अयोग्य होने के बाद भी वाहन चलाने पर 10,000 रुपये जुर्माना देना होगा.

(5) धारा 183 के अनुसार अब गति सीमा से ज्यादा तेज वाहन चलाने पर 1000 रुपये जुर्माना LMV के लिए वहीं, 2000 रुपये जुर्माना MPV के लिए देना होगा.

(6) धारा 184 के अनुसार  खतरनाक तरीके से वाहन चलाने पर अब 5000 रुपये तक का जुर्माना देना होगा.

(7) धारा 185 के अनुसार अब शराब पीकर वाहन चलाने पर 10,000 रुपये के जुर्माने का प्रावधान है.

(8) धारा 189 के अनुसार  अब रेसिंग  पर 5000 रुपये के जुर्माने का प्रावधान है.

(9) धारा 1921 A के अनुसार  अब बिना परमिट वाला वाहन चलाने पर 10,000 रुपये तक के जुर्माना देना होगा.

(10) धारा 193 के अनुसार  लाइसेंस नियमों को तोड़ने पर 25,000 से 1 लाख रु तक के जुर्माने का प्रावधान है.

(11) धारा 194 के अनुसार  ओवरलोडिंग (तय सीमा से ज्यादा सामान होने पर) 2000 रुपये और प्रति टन 1000 रु अतिरिक्त 20,000 रु और प्रति टन 2000 रु अतिरिक्त के जुर्माने का प्रावधान है.

(12) धारा 194 A के अनुसार  अब ओवरलोडिंग (क्षमता से ज्यादा यात्री होने पर) 1000 रु प्रति एक्स्ट्रा पैसेंजर

(13) धारा 194B के अनुसार  अब सीट बेल्ट नहीं लगाने पर 1000 रुपये का जुर्माना देना होगा.

(14) धारा 194C के अनुसार  अब स्कूटर और बाइक पर ओवरलोडिंग यानी दो से अधिक लोग होने पर  2000 रु तक का जुर्माना और 3 महीने के लिए लाइसेंस रद्द हो सकता है.

(15) धारा 194D के अनुसार  अब बिना हेलमेट के 1000 रु तक का जुर्माना और 3 महीने के लिए लाइसेंस रद्द हो सकता है.

(16) धारा 194E के अनुसार  अब एंबुलेंस जैसे इमरजेंसी वाहनों को रास्ता ना देने पर 10,000 रुपए तक का जुर्माना लग सकता है.

(17) धारा 196 के अनुसार  अब बिना बीमा (इंश्योरेंस) वाला वाहन चलाने पर 2000 रुपये का जुर्माना देना होगा.

(18) धारा 199 के तहत अब नाबालिगों के अपराध के मामले में अभिभावक / मालिक को दोषी माना जाएगा. 3 साल तक की सजा का प्रावधान है. नाबालिग पर जुवेलाइन एक्ट के तहत केस चलेगा, वाहन का

रजिस्ट्रेशन भी कैंसल किया जाएगा

(19) अधिकारियों को मिले अधिकार धारा 183, 184, 185, 189, 190, 194C, 194D, 194E के तहत ड्राइविंग लायसेंस सस्पेंड करने का अधिकार

स्टेशन की बाउंड्री तोड़ बाहर निकली ट्रेन

Share.