Netfix विवाद पर कोर्ट की खरी-खरी

0

नेटफ्लिक्स वेब सीरीज़ ‘सेक्रेड गेम्स’ में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के खिलाफ कथित रूप से आपत्तिजनक टिप्पणी का प्रयोग किए जाने के मामले में राहुल ने ट्वीट कर अपना पक्ष रखा है| राहुल ने  कहा, ‘मेरे पिता देश के लिए जीए और मरे। किसी काल्पनिक वेब सीरीज़ के किसी पात्र के नज़रिये से यह सच नहीं बदलने वाला है|’ उन्होंने कहा कि भाजपा/आरएसएस का मानना है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर निगरानी और नियंत्रण होना चाहिए। मेरा मानना है कि यह आजादी हमारा बुनियादी लोकतांत्रिक अधिकार है|  

दरअसल, पश्चिम बंगाल के एक कांग्रेस कार्यकर्ता ने ‘सेक्रेड गेम्स’ के उस एपिसोड पर आपत्ति जताई थी, जिसमें राजीव गांधी को नवाजुद्दीन के किरदार द्वारा ‘फट्टू’ बताया गया है| इसको अंग्रेजी सब टाइटल में आपत्तिजनक शब्द से अनुवादित किया गया है| 37 साल के कांग्रेस कार्यकर्ता राजीव सिन्हा ने पुलिस में इसकी शिकायत कर नवाजुद्दीन सिद्दीकी और निर्माताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने की मांग की थी|

इस मामले में  सोमवार को हाईकोर्ट में सुनवाई हुई, जिसमें हाईकोर्ट की ओर से याचिकाकर्ता को कहा गया कि याचिका में अभिनेता और अभिनेत्री के नाम का ज़िक्र मत करिए| हाईकोर्ट ने कहा कि ये केवल अपना काम कर रहे हैं| ऐसे में इस सीरीज़ में बोले गए संवादों को लेकर अभिनेता और अभिनेत्री जिम्मेदार नहीं हैं|

हाईकोर्ट ने आगे कहा कि याचिकाकर्ता का इतिहास है कि वह कांग्रेस के साथ जुड़ी हैं| वे जब निजी रूप से आई तो जनहित याचिका क्यों लेकर आईं? क्या कोर्ट मानहानि का मामला पीआईएल में सुन सकता है| हाईकोर्ट ने कहा कि नेटफ्लिक्स सीरीज़ की तरफ से कोर्ट को कहा गया कि जो भी एपिसोड थे, वे जारी किए जा चुके हैं|

लिहाजा, अब मामले पर स्टे का कोई मतलब नहीं होता है| हालांकि नेटफ्लिक्स ने कहा है कि कुल 8 एपिसोड थे, लेकिन अभी वे कुछ नया जारी नहीं करेंगे| इस मामले पर अब अगली सुनवाई 19 जुलाई को होगी|

Share.