website counter widget

कांग्रेसमुक्त हुआ नेहरू मेमोरियल

0

नेहरू मेमोरियल म्यूजियम (Nehru Memorial Museum) और लाइब्रेरी (एनएमएमएल) सोसाइटी का सांस्कृतिक मंत्रालय  (Cultural ministry) ने पुनर्गठन किया, जिसके बाद कई नए सदस्य बनाए गए वहीं पुराने सदस्यों को निकाला गया। इसके बाद नेहरू मेमोरियल कांग्रेसमुक्त (Nehru Memorial Congress Free) बन गया। नेहरू म्यूजियम सोसाइटी से कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे (Congress leader Mallikarjun Kharge) , करण सिंह और जयराम रमेश शामिल थे, जिन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया गय। उनकी जगह पर अब भाजपा के निर्बन गांगुली, गीतकार प्रसून जोशी (Lyricist Prasoon Joshi) और पत्रकार रजत शर्मा (Journalist Rajat Sharma) को जगह दी गई है। वहीं इसके अध्यक्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi)  हैं।

महाराष्ट्र में एनसीपी के साथ सरकार बनाएगी शिवसेना!

देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू (India’s first Prime Minister Jawaharlal Nehru) की याद में नेहरू मेमोरियल म्यूजियम और लाइब्रेरी (Nehru Memorial Museum and Library) बनाया गया था। नई गठित समिति के सदस्यों का कार्यकाल 26 जुलाई 2020 तक रहेगा। समिति में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) का नाम भी शामिल है। नई समिति में कुल 28 सदस्य हैं जबकि पिछली समिति में 34 सदस्य शामिल थे। इस नई समिति में 28 सदस्य शामिल हैं। इसके पहले समिति में पत्रकार रामबहादुर राय (Journalist Rambahadur Rai) , पूर्व विदेश सचिव एस. जयशंकर, अर्णब गोस्वामी और भाजपा सांसद विनय सहस्त्रबुद्धे को शामिल किया था।

cognizant के बाद infosys ने हजारों कर्मचारियों को निकाला!

इनके अलावा संघ लोकसेवा आयोग के चेयरमैन, जवाहरलाल नेहरू मेमोरियल फंड के प्रतिनिधि, एनएमएमएल के निदेशक राघवेंद्र सिंह इसके नए सदस्य होंगे। आदेश के मुताबिक जिन अन्य सदस्यों को शामिल किया गया है, उनमें अर्निबान गांगुली, सच्चिदानंद जोशी, कपिल कपूर, लोकेश चंद्र, मकरंद परांजपे, किशोर मकवाना, कमलेश जोशीपुरा व रिजवान कादरी हैं।

पीएम मोदी के दोस्त ने किया भारत से दगा

      – Ranjita Pathare

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.