website counter widget

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने  शिवसेना को दिया झटका  

0

महाराष्ट्र में सत्ता (Maharashtra Government  Formation ) के लिए चल रहे दंगल में रोज कुछ न कुछ नया सामने आ रहा है। भाजपा के सरकार बनाने से मना करने के बाद शिवसेना ने एनसीपी के साथ सरकार बनाने के सपने बुन लिए थे, लेकिन अब इसे लेकर एनसीपी प्रमुख शरद पवार (NCP chief Sharad Pawar statement on BJP Shiv Sena Alliance)  का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होने कहा कि महाराष्ट्र में सरकार नहीं बनने के लिए शिवसेना और बीजेपी (Shiv Sena and BJP alliance) जिम्मेदार है। उनसे पूछा जाये कि सरकार क्यों नहीं बन पा रही है । दोनों ने साथ में चुनाव लड़ा था। हमने कांग्रेस के साथ चुनाव लड़ा था न कि शिवसेना के साथ । शिवसेना और भाजपा अलग हैं और हम और कांग्रेस अलग हैं, उनको उनका रास्ता तय करना है और हमें हमारी राजनीति तय करनी है। शरद पवार ने यह बयान (Sharad Pawar statement) कांग्रेस की अन्तरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sharad Pawar-Sonia Gandhi meeting ) से मुलाक़ात के पहले  दिया, जिससे शिवसेना को तगड़ा झटका लगा है।

जानें क्यों महाराष्ट्र में सरकार बनाने से चुकी शिवसेना!

क्या होगा शिवसेना का सपना पूरा ?

महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री बनाने का शिवसेना का सपना कमजोर होते जा रहा है। पहले जहां एनसीपी और कांग्रेस ने सरकार बनाने के लिए अपना समर्थन देने की बात कही थी, वहीं अब दोनों दलों ने फिर से मंथन करने की बात कही है। एनसीपी और कांग्रेस के नेताओं के बयानों के बाद भी यह लग रहा है जैसे  कांग्रेस और शिवसेना को सरकार बनाने में कोई दिलचस्पी नहीं है। कांग्रेस के एक वरिष्ठ  नेता ने बताया कि शरद पवार और सोनिया गांधी की मुलाक़ात के बाद यदि गठबंधन की आशा नजर आती है तो शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे और सोनिया गांधी की भी जल्द मुलाक़ात हो सकती है।

बस और ट्रक के बीच भिड़ंत, 10 लोगों की दर्दनाक मौत

शिवसेना नेता संजय राऊत (Shiv Sena leader Sanjay Raut statement) ने प्रदेश में सरकार बनने में देरी के कारण के बारे में बताया कि कांग्रेस और शिवसेना की विचारधारों (Congress and Shiv Sena ideologies) में अंतर है,  जिसके कारण गठबंधन में देरी हो रही है, लेकिन जल्द ही स्थिति साफ हो जाएगी।

   – Ranjita pathare 

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.