मोदी सरकार की आलोचना करने वालीं ब्रिटिश सांसद को दिल्ली एयरपोर्ट से वापस भेजा दुबई

0

मोदी सरकार (PM Narendra Modi) द्वारा जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 (Article 370)  खत्म किये जाने का ब्रिटिश सांसद डेबी अब्राहम्स (Debbie Abraham Entry Denied) ने आलोचना की थी. जिसके बाद अब ब्रिटिश संसद की सदस्य और कश्मीर के लिए ऑल पार्टी पार्लियामेंट्री ग्रुप की प्रेसिडेंट डेबी सोमवार को दुबई से भारत पहुंची थीं लेकिन दिल्ली एयरपोर्ट पर उन्हें ये कहते हुए रोक दिया कि उनका वीज़ा रद्द कर दिया गया है. जिसके बाद उन्हें वापस दुबई भेज दिया गया.

PM Narendra Modi Speech In Varanasi : जानिये पीएम मोदी ने वाराणसी में क्या-क्या कहा

सोमवार को दिल्ली एयरपोर्ट पर रोके जाने के बाद डेबी अब्राहम्स (Debbie Abraham Entry Denied)  ने एक पोस्ट के जरिए बताया था कि सोमवार सुबह करीब 9 बजे वह दिल्ली एयरपोर्ट पहुंची थीं. एयरपोर्ट पर उनसे कहा गया कि पिछले साल अक्टूबर में जारी किया गया उनका ई-वीजा जो अक्टूबर 2020 तक मान्य था, रद्द कर दिया गया है. इसकी वजह नहीं बताई गई. वही सरकारी अधिकारियों कि तरफ से बताया गया है कि ब्रिटिश सांसद (British M.P) के पास भारत आने का वैध वीजा नहीं था.इसके बाद ब्रिटिश हाई कमीशन इस मामले पर नजर बनाए हुए है . कमीशन के अधिकारियों ने कहा कि वह पता लगा रहे हैं कि सांसद का वीजा आखिर क्यों रद्द किया गया.

डेबी (Debbie Abraham Entry Denied)  ने आगे कहा, ‘बाकी सभी लोगों के साथ मैंने भी इमिग्रेशन डेस्क पर अपने सभी दस्तावेज दिखाए थे. उसमें मेरा ई-वीजा भी था. मेरी तस्वीर ली गई और फिर अधिकारियों ने स्क्रीन की ओर देखकर अपना सिर हिलाया. उसके बाद उन्होंने मुझसे कहा कि मेरा वीजा रद्द कर दिया गया है. उन लोगों ने मेरा पासपोर्ट ले लिया और करीब 10 मिनट के लिए वह लोग वहां से गायब हो गए. जब वह वापस लौटे तो बेहद गुस्से में थे और मुझसे चिल्लाते हुए बोले कि मेरे साथ आओ. मैंने उनसे कहा कि मुझसे ऐसे बात मत करो.’

PM Modi LIVE : डेरा बाबा नानक पहुंचे PM मोदी

डेबी अब्राहम्स (Debbie Abraham Entry Denied) ने बताया कि उन्होंने अधिकारियों से ‘वीजा ऑन अराइवल’ (Visa on Arrival) की मांग भी की लेकिन उन्हें कोई जवाब नहीं दिया गया. उन्होंने कहा, ‘एयरपोर्ट पर जो इंचार्ज लग रहा था उसने कहा कि उसे खुद कुछ नहीं पता है और जो कुछ भी हुआ, वह उसके लिए शर्मिंदा है. मैं बताने के लिए तैयार हूं कि मेरे साथ अपराधियों की तरह व्यवहार किया गया.’ उन्होंने आगे कहा, ‘मैं सामाजिक न्याय और मानवाधिकारों की रक्षा के लिए राजनीति में आई थी. मैं अपनी लड़ाई जारी रखूंगी.’ बताया जा रहा है कि ब्रिटिश सांसद को उम्मीद थी कि भारत पहुंचने पर उनका वीजा रद्द किया जा सकता है.

इस विवाद पर नई दिल्ली में गृह मंत्रालय की प्रवक्ता ने बताया कि ब्रिटिश सांसद (Debbie Abraham Entry Denied) का वीजा रद किए जाने के बाद उन्हें इस बात की जानकारी दी गई थी और वह यह सब जानते हुए भी दिल्ली पहुंच गईं। जब डेबी अब्राहम्स (Debbie Abraham) से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मुझे 13 फरवरी से पहले इस बारे में कोई जानकारी नहीं मिली थी। उसके बाद से वह ऑफिस नहीं गईं और लगातार यात्रा कर रही थीं। ब्रिटेन में उनके दफ्तर ने इस बात की पुष्टि की कि डेबी को दुबई के एक विमान में वापस भेजा गया है। चूंकि वह दुबई से ही भारत आईं थीं। डेबी के साथ उनका भारतीय मूल का स्टाफ भी मौजूद था।

आपको बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) (CAA) पर मचे सियासी बवाल और शाहीन बाग (Shaheen Bagh)  सहित देश के अलग-अलग हिस्सों में विरोध प्रदर्शन के बीच पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने साफ किया है कि वह अपने फैसले पर पूरी तरह कायम रहेंगे। दूसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दूसरे दौरे पर 1200 करोड़ रुपये की सौगात देने के बाद पीएम ने कहा कि ये फैसले (सीएए और आर्टिकल 370)  जरूरी थे, फिर भी तमाम दबावों के बावजूद हमने ये फैसले लिए। मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि हम इन फैसलों पर आगे भी कायम रहेंगे।

जामिया गोलीकांड के समर्थन में बोले फिल्म निर्माता अशोक पंडित

-मृदुल त्रिपाठी

Share.