गोडसे को देशभक्त कहने का साध्वी ने बताया कारण

0

महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi )के हत्यारे नाथुराम गोडसे (Nathuram Godse)  को देशभक्त कहने वाली साध्वी प्रज्ञा (Godse Devotee Sadhvi Pragya ) की मुसीबत बढ़ चुकी है। पहले ही मालेगांव ब्लास्ट केस में साध्वी (Sadhvi Pragya accused in Malegaon blast case ) को राहत नहीं मिली है और अब गोडसे को बार-बार देश भक्त कहने के कारण बीजेपी भी साध्वी से रूठ गई है। संसद में दिये गए अपने बयान पर अब साध्वी ने सफाई दी है। उनकी सफाई के बाद अब फिर से प्रज्ञा ठाकुर लोगों के निशाने पर आ गई है। कई लोग उनके समर्थन में हैं और हिंदुवादी नेता बताकर उनका साथ दे रहे हैं, तो वहीं कई ऐसे भी हैं जो उनके बयान का विरोध कर रहे हैं।

अब शादी करने के लिए वेडिंग डिग्री अनिवार्य, फेल हुए तो रहेंगे कुंवारे

भारतीय जनता पार्टी ने सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर पर कार्रवाई करते हुए उन्हें डिफेंस कमेटी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है। अपने बयान के बाद हुई कार्रवाई और लोगों के रिएक्शन देखने के बाद साध्वी प्रज्ञा ने ट्वीट के माध्यम से अपनी सफाई दी। उन्होने कहा कि कभी-कभी झूठ का बबण्डर इतना गहरा होता है कि दिन में भी रात लगने लगती है, किन्तु सूर्य अपना प्रकाश नहीं खोता। पलभर के बबण्डर मे लोग भ्रमित न हों सूर्य का प्रकाश स्थाई है। सत्य यही है कि कल मैने ऊधम सिंह जी का अपमान नहीं सहा बस।

शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस में कैसे हुआ मंत्रिमंडल का बंटवारा, जानिए

साध्वी के बयान के बाद विपक्ष के राहुल गांधी, प्रियंका गांधी सहित कई नेताओं ने विरोध किया। बीजेपी के भी कई नेता बोल चुके हैं कि वे इस बयान का समर्थन नहीं कर रहे हैं। प्रज्ञा के देशप्रेम के कारण ही संसद में महासंग्राम भी छिड़ गया, जिसके बाद संसद की कारवाई प्रभावित हुई। इस हंगामे के बाद अब बीजेपी से मांग की जा रही है कि वे साध्वी को पार्टी से भी बाहर करें। राहुल गांधी नेट्वीट कर साध्वी को आतंकी तक कह दिया। उन्होने लिखा कि आतंकवादी प्रज्ञा आतंकी गोडसे को देशभक्त कहती है। भारत की संसद के इतिहास में एक दुखद दिन।

शपथ ग्रहण से पहले अजित पवार हुए लापता, फोन भी बंद!

     – Ranjita Pathare 

Share.