website counter widget

Article 370 हटने से आतंकियों के हमदर्द परेशान: पीएम मोदी

0

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 (Article 370 removed from Jammu and Kashmir) हटाए जाने के बाद से अभी तक कई लोग मोदी सरकार के इस फैसले का विरोध कर रहे हैं। विरोध बढ़ता देख अब इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) विरोधियों पर जमकर बरसे हैं। पीएम ने कहा कि जो लोग आतंकवादियों का समर्थन करते हैं केवल उन्हें इस फैसले से परेशानी होगी। यह निर्णय इसीलिए लिया गया क्योंकि कश्मीर में बेहतर एकजुटता और आवागमन सुनिश्वित हो और दोहरी नागरिकता का झूठा सिद्धांत हमेशा के लिए समाप्त हो जाए, ये कश्मीर के लिए बहुत ही अच्छा फैसला है, जिसका लगातार विरोध किया जा रहा है।

कांग्रेस नेता ने प्रियंका गांधी के सामने पत्रकार को दी जान से मारने की धमकी

अलग-थलग था जम्मू-कश्मीर

पीएम मोदी ने अपने भाषण में कहा कि पहले जम्मू-कश्मीर भारत से अलग-थलग था, लेकिन उसे अब एक करने की कोशिश की गई है, जो विरोधियों को नहीं भा रही है। ये फैसला भारत की एकता के लिए लिया गया है। पीएम ने आगे कहा कि कश्मीर पर लिए गए निर्णय का जिन लोगों ने विरोध किया, उनकी जरा सूची देखिए – असामान्य निहित स्वार्थी समूह, राजनीति परिवार, जो कि आतंक के साथ सहानुभूति रखते हैं और कुछ विपक्ष के मित्र, लेकिन भारत के लोगों ने अपनी राजनीतिक संबद्धताओं से इतर जम्मू एवं कश्मीर और लद्दाख के बारे में उठाए गए कदमों का समर्थन किया है। यह राष्ट्र के बारे में है, राजनीति के बारें में नहीं। भारत के लोग देख रहे हैं कि जो निर्णय कठिन ने मगर जरूरी थे, और पहले असंभव लगते थे, वे आज हकीकत बन रहे हैं।”

मोदी का नया नियम, केस लड़ने के लिए वकील की नहीं जरूरत

पीएम ने आगे कहा कि इस प्रावधान ने वास्तव में भारत का नुकसान किया है, और इससे मुट्ठीभर परिवारों और कुछ अलगाववादियों को लाभ हुआ है। इस बात से अब हर कोई स्पष्ट है कि अनुच्छेद 370 और 35ए ने किस तरह जम्मू एवं कश्मीर और लद्दाख को पूरी तरह अलग-थलग कर रखा था। सात दशकों की इस स्थिति से लोगों की आकांक्षाएं पूरी नहीं हो पाईं। नागरिकों को विकास से दूर रखा गया। हमारा दृष्टिकोण अलग है – गरीबी के दुष्चक्र से निकाल कर लोगों को अधिक आर्थिक अवसरों से जोड़ने की आवश्यकता है। वर्षो तक ऐसा नहीं हुआ। अब हम विकास को एक मौका दें।

अब सिक्किम में भी बनने जा रही भाजपा सरकार

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.