website counter widget

image1

image2

image3

image4

image5

image6

image7

image8

image9

image10

image11

image12

image13

image14

image15

image16

image17

image18

रामनवमी की रैली पर अल्लाह के बंदों ने पिलाया शरबत

0

मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान श्रीराम की जन्मभूमि भले ही विवादों में घिरी हो लेकिन पूरे देश में उनका जन्मोत्सव ”रामनवमी” बेहद धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान हिन्दू-मुस्लिम एकता की बेहद शानदार मिसाल देखने को मिली। रामनवमी के शुभावसर पर श्री राम भक्तों द्वारा एक रैली का आयोजन किया। इस रैली का स्वागत मुस्लिम समाज द्वारा जूस पिलाकर किया गया। यह पूरा मामला कर्नाटक के कलबुर्गी का है। बताया जा रहा है कि, यहां रामनवमी के अवसर पर एक रैली का आयोजन (Muslims Offer Juices To Devotees During Ram Navami ) किया गया था। राम भक्त भारी तादात में भगवान राम की विशाल प्रतिमा को लेकर जुलूस निकाल रहे थे। जैसे ही यह विशाल जुलूस मस्जिद के सामने पहुंचा तब तपती धूप को देखते हुए मुस्लिम समुदाय ने राम भक्तों के लिए शरबत की व्यवस्था की।

बड़ा ही दिव्य और चमत्कारी है कामदा एकादशी व्रत

Image result for राम भक्तों को मुस्लिम लोग पिला रहे थे जूस

मस्जिद के समीप ही मुस्लिम समुदाय ने इस जुलूस का भव्य स्वागत किया (Muslims Offer Juices To Devotees During Ram Navami )। राम भक्तों को शरबत पिलाया। पारस्परिक सौहाद्र का यह अनुमप दृश्य कई कैमरों ने कैद कर लिया। इसके बाद जब यह तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट की गई तो देखते-देखते ही यह वायरल हो गई। जिसने भी इस तस्वीर और इसके वीडियो को देखा वह सद्भावना की इस मिसाल की तारीफ किए बगैर नहीं रह सका। हालांकि उत्तर प्रदेश से भी साम्‍प्रदायिक एकता की एक मिसाल पेश की गई। यहां के लमही स्थित सुभाषनगर कालोनी में रामनवमी के इस पवन दिन मुस्लिम समाज की महिलाओं ने भगवान श्री राम की भव्य आरती उतारी।

क्या प्रभाव डालते हैं सड़क पर मिले पैसे?

रामनवमी पर काशी में मुस्लिम महिलाओं ने सौहार्द के दीपक से की श्रीराम की आरती

जी हां मुस्लिम समुदाय (Muslim Women Celebrate Ramnavami) की महिलाओं द्वारा श्री राम की आरती उतारे जाने की तस्वीर भी सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है। गौरतलब है कि विशाल भारत संस्‍थान और मुस्लिम महिला फाउंडेशन ने शनिवार को मिलकर श्रीराम जन्मोत्सव बड़ी धूमधाम से मनाया। जानकारी के अनुसार पिछले 13 वर्षों से लगातार यह संस्थान रामनवमी का उत्सव बड़ी धूमधाम से मनाती आ रही है। हर बार मुस्लिम समाज की महिलाएं, इस उत्सव में बढ़-चढ़ कर शामिल होती हैं। श्री राम की आरती से लेकर उनकी पूजा-अर्चना तक, हर कार्य मुस्लिम महिलाएं करती हैं।

Related image

इतना ही नहीं इस अवसर पर हनुमान चालीसा फेम नाजनीन अंसारी ने रामचरित मानस की आरती उर्दू में प्रस्तुत की। इस अनूठी मिसाल ने देश भर के हिन्दू-मुस्लिम को एकता के सूत्र में पिरो दिया। इस तस्वीर को जिसने भी देखा उसने खुद को एक भावनात्मक बंधन में बंधा पाया। इस अवसर पर मुस्लिम महिलाओं ने कहा कि प्रभु श्रीराम किसी एक के नहीं बल्कि पूरी सृष्टि के पालनहार हैं। उन्होंने कहा कि हमारे पूर्वज भी प्रभु श्रीराम के ही वंशज हैं। मुस्लिम महिला फाउंडेशन की नेशनल सदर नाजनीन अंसारी ने इस मौके पर कहा कि हमारा सिर्फ धर्म बदला है, लेकिन संस्कृति आज भी वही हैं।

कहीं आपके घर में तो नहीं है यह चीजें, होगा बेहद नुकसान

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
Loading...
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.