अब कचरा फेंकने के लिए लगानी होगी लाल बिंदी

0

देश में स्वच्छता के लिए कई कैम्पेन चलाए जा रहे हैं। अब ऐसे ही स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 (Cleanliness survey begins 2020) को ध्यान में रखते हुए राजस्थान (Rajasthan News)  में एक स्पेशल कैम्पेन (Special Campaign ) चलाया जाएगा। जयपुर नगर निगम (Jaipur Municipal Corporation) की स्वास्थ्य शाखा नया प्रयोग करने जा रही है। अब कचरा फेंकने (Garbage disposal) से पहले लाल बिंदी ( Red Dot Campaign In Jaipur ) लगानी जरुरी होगी। सैनेटरी पैड , डायपर (Sanitary pads, diapers)  को अब अलग से हूपर में रखना अनिवार्य होगा। इस बारे में अधिकारियों ने बताया कि सूखे और गीले कचरे से सैनेटरी कचरे को प्रभावी तरीके से शुरू किया जाएगा।

Fake Demat Account से Indore में व्यवसायी के साथ धोखाधड़ी

लाल बिंदी अनिवार्य

जयपुर नगर निगम (Red Dot Campaign In Jaipur) में यह कार्यक्रम पहले आठ वार्डों से शुरू किया जाएगा। करीब 50 हूपरों में अलग से लाल डब्बा लगाया जाएगा। इसमें सैनेटरी कचरे को डालने के लिए कहा जाएगा। स्वास्थ्य शाखा से चिकित्सकों का कहना है कि सैनेटरी पैड, डायपर (Sanitary pads, diapers)  जैसे कचरे को अलग कर देने से श्रमिकों में स्टेफिलोकोकस, हेपेटाइटिस, ई कोलाई, साल्मोनेला और टाइफाइड आदि जैसे विभिन्न रोगों के जोखिमों के लिए संवेदनशीलता कम कर देता है।

ऐसे लगानी होगी लाल बिंदी (Red Dot Campaign In Jaipur)

TMC कार्यकर्ता अब फोन पर बोलेंगे …

सैनेटरी पैड, डायपर जैसे कचरे को अब खुले में फेंकने के बजाय उसे कागज में पैक करना जरुरी होगा। कागज में पैक करने के बाद उस पर लाल बिंदी भी लगानी जरुरी है। ऐसा करने से कचरा लेने वाले समझ जाएंगे कि पैक में क्या है। कचरा उठाने वाले सफाईकर्मी इस पैकेट को उठाकर अलग से बने बॉक्स में रख देंगे। राजस्थान में शुरू किये जा रहे इस कैम्पेन को पुणे नगर निगम द्वारा पिछले  दो साल से सफलतापूर्वक चलाया जा रहा है। इस कैम्पेन को रेड डॉट कैम्पेन (Red dot campaign) नाम दिया गया है। वहीँ इंदौर नगर निगम द्वारा कचरा संग्रहण की गाड़ियों में अलग से मेडिकल वेस्ट का बॉक्स लगाया है, जिसमे ऐसा कचरा डाला जाता है।

5 माह की बेटी को 9 दिन तक गर्म सलाखों से दागा

Share.