कश्मीर को लेकर एक और बड़ा ऐलान

0

जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने का ऐतिहासिक फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने लिया। इसके बाद अब कश्मीर में विकास की बयार बहना शुरू हो जाएगी। इस कड़ी में अपना कदम आगे बढ़ाते हुए एक और गुजरात ने कश्मीर को जन्नत बनाने की कवायद शुरू करने का ऐलान कर दिया है। दरअसल भारत के सबसे बड़े उद्योगपति और देश की सबसे बड़ी कम्पनी रिलायंस इण्डस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) के संस्थापक मुकेश अंबानी ने कश्मीर और लद्दाख में निवेश की घोषणा की।

भाजपा में शामिल फोगाट की बेटी….

रिलायंस समूह की 42वीं वार्षिक आम बैठक (AGM) में जैसे ही मुकेश अंबानी ने कश्मीर और लद्दाख का नाम लिया वैसे ही बैठक में मौजूद सभी लोगों ने तालियों की गड़गड़ाहट से पूरा हाल गुंजा दिया। इस मौके पर मुकेश अंबानी ने कहा कि, “हम जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के विकास और वहां के लोगों की जरूरतें पूरी करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।” फिलहाल अभी उन्होंने एक स्पेशल टास्क फोर्स का गठन किया है जो कश्मीर और लद्दाख में विकास से जुड़ी गतिविधियों की रूपरेखा तैयार करेगी। मुकेश अंबानी ने आगे कहा कि, “हम आने वाले दिनों में जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को लेकर कुछ घोषणाएं करेंगे।”

सड़क पर थूकने वालों को Bhopal पुलिस ने दी खौफनाक सज़ा

गौरतलब है कि गृहमंत्री अमित शाह ने संसद में कहा था कि, “जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए वो 100 करोड़ मांगेंगे, हम 110 करोड़ रुपए देंगे। हमारे प्रधानमंत्री जी का दिल बहुत बड़ा है।” इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्र के नाम सन्देश दिया था। अपने सन्देश में पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को विकास के नए पंख लगाने की अपनी मंशा जाहिर की थी। पीएम मोदी के उद्बोधन के बाद कश्मीर और लद्दाख में विकास की गंगा बहाने के उद्देश्य से मुकेश अंबानी वहां निवेश करने की योजना बना रहे हैं। रिलायंस इण्डस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) की वार्षिक साधारण बैठक (AGM) में अंबानी ने कई योजनाओं की घोषणाएं की। लेकिन जब कश्मीर की बात आई तब वहां मौजूद हर शख्स उत्साह से भर गया और जोरदार तालियों के साथ इस घोषणा का स्वागत किया।

गौरतलब है कि बैठक के दौरान मुकेश अंबानी ने सबसे पहले तो पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानों के बच्चों की पढ़ाई का खर्चा उठाने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि शहीदों के बच्चों की पढ़ाई का सारा खर्च RIL उठाएगी। इसके बाद उन्होंने कहा कि, “प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लिए विज़न को देखते हुए हमारी कंपनी ने वहां निवेश करने का निर्णय किया है। इसके लिए अभी टास्क फोर्स का गठन किया गया है, जो इस पर काम करेगा। हम शीघ्र ही वहां निवेश को लेकर अपने प्लान जारी करेंगे।”

भाजपा अध्यक्ष के साथ बड़ा हादसा!

Share.