website counter widget

मोदीजी हिम्मत करके गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करो : उमाकांत महाराज

0

‘गौ विश्व मातृस्य:’ अर्थात गाय विश्व की माता है|  भारत में हिन्दू हो या मुसलमान, सिख हो या ईसाई  किसी भी धर्म, जाति, भाषा या क्षेत्र का इंसान हो, इस श्लोक को समझता भी है और मानता भी है | गाय का दूध सबसे ताकतवर, गोमूत्र कैंसर का इलाज, गोबर गैस संयंत्र और गोबर खाद के अलावा देवताओं की जान बचाने वाली गोमाता है|

जीवन के अंतिम समय में मरते आदमी को गाय की पूंछ पकड़ाई जाती है कि मुक्ति मिल जाएगी| यही कारण है कि राम, कृष्ण जितने भी भगवान धरती पर आए सबने गाय की सेवा की, लेकिन यह सिक्के का एक पहलू है क्योंकि एक तरफ भारत में गाय माता है तो दूसरी तरफ ‘Pink Revolution’ के नाम पर तथाकथित इंडिया गोमांस के मामले में विश्व में तृतीय स्थान रखता है |

VIDEO : सिद्धारमैया का छलका दर्द, नंगे पांव विधानसभा पहुंचे एचडी

कट्टर हिंदुत्व की छवि वाले  नरेंद्र मोदीजी के प्रधानमंत्री बनने के बाद देश के साधु-संतों के साथ-साथ गायों में भी यह उम्मीद जागी थी कि अच्छे दिन आएंगे, लेकिन ऐसा हुआ नहीं और ऐसा भी नहीं है कि मोदीजी ने अपने भाषणों में ‘Pink Revolution’ का विरोध नहीं किया हो, किया है पर केवल भाषणों में ही किया है| गोधन की रक्षा के लिए अवैध बूचड़खाने बंद करने की बात भी की है, लेकिन फिर भी बूचड़खाने ज़िंदा हैं और अब तो मॉब लिंचिंग के नाम पर गाय के साथ-साथ आदमी भी मर रहा है|  यही कारण कि अब संत-महात्मा  गोमाता की जान बचाने के लिए आगे आए हैं|

भाजपा नेता के कार शोरूम पर छापा, लाखों की कर चोरी उजागर

इसी कड़ी में भारत में शाकाहार, सदाचार, नशामुक्ति, शराब बंदी के साथ-साथ गोहत्या बंद करवाकर गाय को भारत का राष्ट्रीय पशु घोषित करवाने के लिए गत कई साल से गांव-गांव शहर-शहर  में जाकर जनजागरण करने वाले संत उमाकान्त महाराज, जिनके आह्वान पर करोड़ों आवेदन देश की केंद्र सरकार मोदीजी के नाम पर इस प्रार्थना के साथ भेजे गए कि “जिस देश में गाय को मां कहा जाता है, उसका दूध पीया जाता है, पूजा जाता है, उस देश में गाय की हत्या पाप है इसलिए आपसे निवेदन है कि भारत में गोहत्या बंद करवाकर गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित कर दे ” | उन्हीं बाबा उमाकान्त महाराज ने जोधपुर में गुरुपूर्णिमा पर्व पर लाखों जनता के बीच फिर से देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से यह प्रार्थना की है कि आप एक बार हिम्मत करके गाय को देश का राष्ट्रीय पशु घोषित कर दे |

बिहार की जनता डूब रही थी, नेता-मंत्री फिल्म देख रहे थे

आपके पास बहुमत है और यदि ज़रूरत पड़ी तो हम आपको विपक्ष से भी समर्थन दिलाने के लिए उनसे भी विनती-प्रार्थना कर देंगे | जिसे मां कहो, उसी का मांस खाओ, यह जायज़ नहीं है इसलिए हम जनता से इस मंच से प्रार्थना करते हैं कि आप गोमाता की जान बचाइए| जिस दिन इस धरती पर गोहत्या बंद हो जाएगी, उसी दिन से धरती पर अच्छे समय सतयुग का आगमन हो जाएगा |  यह लोक कल्याण और परमार्थ का काम है, आप कर दीजिए, आपको श्रेय मिल जाएगा वरना हम तो यह कर के दिखा ही देंगे| जिस दिन हम करेंगे, उस दिन गाय तो क्या भारत में किसी भी पशु-पक्षी या जीव-जंतु की हत्या नहीं होगी | अभी समय है, आप हिम्मत कर गाय की जान बचा लीजिए | जिस समय संत उमाकांत महाराज ने देश की सरकार से यह प्रार्थना की उस समय कई राजनेता, मीडिया और आम जनता मौजूद थी |

आने वाले समय में मोदीजी इस काम को कर पाएंगे या नहीं, यह तो वक्त बताएगा, लेकिन महाराज के साथ मौजूद लाखों लोग हाथ खड़े कर गोरक्षा का संकल्प लेना | मोदीजी के लिए चेतावनी है कि देश की जनता गोमाता के साथ है |

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.