मोदी की नीति रोकेगी अब बढ़ती महंगाई

0

पिछले कुछ दिनों में महंगाई सातवे आसमान पर पहुँच गई है। महंगाई के कारण कई लोगों की दिवाली भी रूखी-सुखी बीती। अब इस महंगाई को रोकने के लिए मोदी सरकार (Modi government ) नई नीति लेकर आई है। अब सरकार खुद ही प्याज और अन्य महंगी सब्जियां (Vegetable) बेचने की तैयारी में लग गई है। ऐसा इसीलिए किया जा रहा है क्योंकि प्याज की नई फसल की आवक आनी शुरू हो गई है, इसके बाद भी दामों में नरमी नहीं आई है। प्याज लगातार रुला ही रहा है।

महंगाई से लड़ने की नई नीति

दिल्ली (Delhi ) तथा कई अन्य बड़े शहरों में प्याज 50-60 रुपे किलो बिक रहा है, जिसे देखते हुए सरकार अपने स्तर पर प्याज बेचने की तैयारी करने वाली है। सरकार ने प्याज और दलहन के दामों पर नियंत्रण करने के लिए नैफेड ( National Agricultural Cooperative Marketing Federation of India  ) को बफर स्टॉक से दाल और प्याज जारी करने के आदेश दिये हैं। सरकार के बफर स्टॉक की समीक्षा के लिए उपभोक्ता मामले मंत्रालय  के सचिव अविनाश कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में स्थायी समिति की बैठक भी हुई, जिसमें सरकार की नई नीति के बारे में चर्चा की गई।

सरकार की नई नीति के बारे में कृषि मंत्रालय (Ministry of Agriculture) के अधिकारियों का कहना है कि दिवाली  (Diwali) के दौरान महाराष्ट्र की मंडियां बंद थी जिसके कारण दो-तीन दिनों तक प्याज की आवक प्रभावित रही। दिल्ली के साथ मध्यपोरदेश, राजस्थान जैसे राज्यों की मंडियां भी बंद थी, जिनका व्यापार पर काफी व्यापक प्रभाव पड़ा। कृषि मंत्रालय के अधिकारियों के साथ बैठक में देश की राजधानी दिल्ली में मदर डेयरी के सफल आटलेट के माध्यम से प्याज बेचने के लिए नैफेड को प्याज की सप्लाई जारी रखने का निर्देश दिया गया है। अब सरकार का कहना है कि वे जल्द ही सस्ते दामों में प्याज और दलहन उपलब्ध कराएगी।

      – Ranjita Pathare 

 

Share.