Mission Clean Sweep : कर्नाटक के बाद अब कहां?

0

आखिर प्रधानमंत्री मोदी का मैजिक चल ही गया और कर्नाटक के सियासी नाटक के बीच आज कुमार स्वामी की सरकार गिर ही गई। ऐसे कयास पहले ही लग गए थे कि केंद्र में भाजपा के आने के बाद राज्यों में बची-खुची कांग्रेस का भी सफाया कर दिया जाएगा। इसी कड़ी में पहला नंबर लगा कर्नाटक का, जहां कांग्रेस के कुमार स्वामी विधानसभा में अपना विश्वास मत साबित नहीं कर पाए। 99 विश्वास मतों के मुकाबले विपक्ष में 105 मतों से कांग्रेस की हार हुई।

BJP Government In Madhya Pradesh : कर्नाटक के बाद मध्यप्रदेश में भाजपा सरकार की वापसी!

विधानसभा में विश्वास मत का फैसला आते ही राजनीतिक गलियारों में अब यह हलचल तेज हो गई है कि कर्नाटक के बाद अब मोदी के अगले निशाने पर कौन सा राज्य होगा। इनमें सबसे उपर गोवा, मध्यप्रदेश और पंजाब का नाम सामने आ रहा है, जहां इस समय कांग्रेस की सरकार है। छतीसगढ़ और राजस्थान सरकार भी बुरे दौरे से गुजर रही हैं ऐसे में कांग्रेस के डूबते जहाज को छोड़कर विधायक नेता भाजपा का दामन थाम सकते हैं और इस कार्य में अमित शाह को महारथ हासिल है। इसलिए कर्नाटक के बाद दूसरे राज्यों के कांग्रेस मंत्री भी डर गए हैं।

OBC Reservation In MP : मध्य प्रदेश में OBC वर्ग को मिलेगा 27 फीसदी आरक्षण

हालांकि विधायकों को अपनी पार्टी में शामिल करने की कला को भारतीय जनता पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और गृहमंत्री अमित शाह से बेहतर कौन जान सकता है। अमित शाह का दौरा जिस राज्य में हो जाए वहां विपक्ष में हाहाकार मच जाता है। वहीं प्रधानमंत्री मोदी भी ऐसे दांव खेलते हैं कि विपक्ष अपने सारे हथियार डाल ही देता है। हालांकि जो भी हो इससे एक बात तो साबित होती है कि मोदी-शाह की जोड़ी के आगे विपक्ष पूरी तरह से अपने घुटने टेक चुका है। अब यह देखना बेहद ही दिलचस्प होगा कि गोवा, मध्यप्रदेश और पंजाब में भी क्या कांग्रेस का सफाया होता है या वह अपनी कुर्सी बचाए रखने में कामयाब होती है। फिलहाल सभी की निगाहें अब गोवा पर ही जाकर टिक गईं हैं।

मध्यप्रदेश के रतलाम से भी अनोखा मामला सामने आया

Share.