website counter widget

गांधी जी के बाद स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा पर छात्रों का गुस्सा

0

दिल्ली – राजधानी दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में छात्र लगातार बढ़ी हुई फीस को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। हालांकि केंद्र सरकार छात्रों के आगे झुक गई। जेएनयू प्रशासन को छात्रों के विरोध के आगे झुकना पड़ा और प्रशासन ने बढ़ी हुई फीस में आंशिक तौर पर कटौती कर दी। जेएनयू प्रशसन द्वारा आंशिक तौर पर  फीस घटाए जाने के बाद भी छात्रों की नाराजगी और गुस्सा कम नहीं हुआ। छात्रों ने इसके बावजूद भी प्रदर्शन जारी रखा और छात्र फीस बढाए जाने का फैसला वापस लेने की मांग कर रहे हैं। वहीं छात्रों के विरोध का फायदा उठाते हुए कुछ उपद्रवियों ने विश्वविद्यालय के अंदर मौजूद स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा (Statue of swami vivekananda) पर तोड़-फोड़ की।

हरियाणा मंत्रिमंडल विस्तार, जाने किन विधायकों ने ली शपथ

फिलहाल इस मामले में जेएनयू प्रशासन की तरफ से ज्यादा जानकारी हासिल नहीं हुई है। अभी तक मिली जानकारी के अनुसार जहां कुछ उपद्रवियों ने स्वामी विवेकानद की प्रतिमा (Statue of swami vivekananda) के साथ तोड़-फोड़ की वहीं प्रतिमा के नीचे अभद्र टिप्पणी भी लिखी गई है। बताया जा रहा है यह सभी टिप्पणी भारतीय जनता पार्टी (BJP) को निशाना बनाते हुए लिखी गई हैं। गौरतलब है कि जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में छात्र पिछले लंबे वक़्त से फीस वृद्धि के खिलाफ और अन्य दूसरी मांगे लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। बता दें कि गुरुवार के दिन भी छात्रों ने प्रशासनिक भवन में घुसकर उग्र प्रदर्शन किया था और जमकर नारेबाजी की थी।

50-50 फॉर्मूले पर आखिर क्यों संजय राउत ने खाई बालासाहेब की कसम

वहीं अभी तक इस बात के बारे में जानकारी हासिल नहीं हो सकी है कि आखिर स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा (Statue of swami vivekananda) के साथ तोड़-फोड़ और प्रतिमा के नीचे अभद्र टिप्पणी किसने लिखी? मामले की जांच की जा रही है। वहीं इस पूरे मामले में अभी जेएनयू प्रशासन की तरफ से कोई आधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है। लेकिन जेएनयू के यह तस्वीरें तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। सोशल मीडिया पर यूजर्स इसे लेकर लगातार कमेंट कर रहे हैं और उपद्रवियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

कभी मातोश्री में बनती थी सरकारें आज किंग मेकर किंग बनने के लिए भटक रहे है

Prabhat Jain

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.