website counter widget

वायुसेना का मिग 27 फाइटर जेट क्रैश

0

वायुसेना का दूसरा लड़ाकू विमान मिग-27 आज राजस्थान के पोकरण रेंज में हादसे का शकार हो गया। 12 दिनों में वायुसेना का यह दूसरा लड़ाकू विमान है जो हादसे का शिकार हुआ है। हालांकि इस विमान हादसे में पायलट सुरक्षित बाहर निकलने में सफल रहा और उसे किसी तरह का कोई नुकसान  नहीं हुआ है। यह हादसा 12 फ़रवरी की शाम 6 बजकर 10 मिनट पर हुआ। मिग-27 ट्रेनिंग मिशन पर था। इस विमान के क्रैश होने के बाद वायुसेना ने दुर्घटना की जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। इससे पहले भी ट्रायल के दौरान एक फाइटर जेट क्रैश हो गया था जिसमें सवार दोनों पायलटों की मौत हो गई थी।

गौरतलब है कि भारतीय वायुसेना का यह फाइटर जेट मिग-27 सोवियत संघ के जमाने का एयरक्राफ्ट है। इसे भारत ने सन 1980 में खरीदा था। सन 1999 में हुए कारगिल युद्ध के समय इस विमान ने वायुसेना का दम दिखाया था और दुश्मनों के दांत खट्टे किए थे। इसी फाइटर जेट की मदद से भारतीय सेना ने कारगिल के पहाड़ों की चोटियों पर बैठे पाकिस्‍तानी घुसपैठियों को तबाह किया था। हालांकि अब यह फाइटर जेट मिग 27 भारतीय वायुसेना से रिटायर हो चुके हैं। जानकारी के मुकताबिक साल 2001 से 2010 के बीच तकरीबन 12 मिग 27 लड़ाकू विमान हादसे का शिकार बने। जिसके बाद इन फाइटर जेट्स को ‘फ्लाइंग कॉफिन’ कहा गया। इन लड़ाकू विमानों के लगातार हादसों की वजह से फरवरी 2010 में तकरीबन 150 से भी ज्यादा मिग 27 के उड़ान पर पाबंदी लगा दी गई थी।

गौरतलब है कि इस माह की शुरुआत में ही बेंगलूर में, भारतीय वायुसेना का मिराज लड़ाकू विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ था। इस विमान हादसे में दो पायलट शहीद हो गए थे। इस विमान को हिंदुस्‍तान एयरोनॉटिकल्‍स लिमिटेड ने अपग्रेड किया था और इसे टेस्‍ट लाइट के लिए ले जाया गया था। टेस्टिंग के दौरान ही यह फाइटर जेट क्रैश हो गया था। दोनों पायलट क्रैश हुए विमान से निकलने में कामयाब रहे थे, लेकिन इसमें से एक पायलट विमान के मलबे में ही जा गिरा था जिससे उसकी मौत हो गई थी। वहीं विमान के दूसरे पायलट की मौत इलाज के दौरान अस्पताल में हुई थी। हालांकि अभी तक विमान के क्रैश होने की वजह साफ़ नहीं हो सकी है।

(प्रभात)

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.