पूर्व पीएम की SPG सुरक्षा हटाई, जानिए क्या होती है X, Y, Z और Z+ सुरक्षा

0

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहनसिंह (Former Prime Minister Manmohan Singh) की एसपीजी (Special Protection Group ) सुरक्षा हटा दी गई है। अब उन्हें केवल जेड प्लस सुरक्षा (Z plus security)  दी जाएगी। उन्हें पूर्व प्रधानमंत्री होने के नाते यह सुरक्षा दी जा रही थी।  गृह मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा कि निर्धारित समय के बाद सुरक्षा व्यवस्था का रिव्यू किया जाता है। यह सामान्य प्रक्रिया है और इसके तहत ही सुरक्षा घटाने या बढ़ाने का निर्णय लिया जाता है। आइये जानते हैं क्या होती है है X, Y, Z और Z+ सुरक्षा।

पी चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका

एसपीजी सुरक्षा

एसपीजी सुरक्षा केवल पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और गांधी परिवार को ही प्राप्त है। अभी तक यह पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को भी मिलती थी, लेकिन अब उनसे यह सुरक्षा छिन ली गई है।

पाकिस्तान के बारे अरुंधति रॉय ने कहा कुछ ऐसा कि हुई ट्रोल

जेड प्लस सुरक्षा

एसपीजी सुरक्षा के बाद जेड प्लस सुरक्षा को ही भारत में सर्वोच्च सुरक्षा श्रेणी में रखा गया है। इसमें 36 जवान लगे होते हैं। सुरक्षा गार्डों में दिल्ली पुलिस, आईटीबीपी या सीआरपीएफ के कमांडो और राज्य के पुलिसकर्मी शामिल होते हैं। एनएसजी कमांडो के पास एमपी 5 मशीनगन के साथ आधुनिक संचार उपकरण भी होता है।

जेड श्रेणी की सुरक्षा

सुरक्षा की इस श्रेणी में चार से पांच एनएसजी कमांडो के साथ 22 सुरक्षागार्ड तैनात होते हैं। ये जवान दिल्ली पुलिस, आईटीबीपी या सीआरपीएफ के कमांडो व स्थानीय पुलिसकर्मी होते हैं।

वाई श्रेणी की सुरक्षा

वाई श्रेणी का हमारे देश में सुरक्षा का तीसरा स्तर होता है, जिसे कम खतरे वाले लोगों को दिया जाता है। सुरक्षा की इस श्रेणी में 11 जवान होते हैं। देश में सबसे ज्यादा लोगों को दी जाती है।

मोदी का अगला शिकार गांधी परिवार!

एक्स श्रेणी की सुरक्षा

सुरक्षा की इस श्रेणी में केवल दो सुरक्षा गार्ड लगे होते हैं। दोनों में से एक पीएसओ (व्यक्तिगत सुरक्षा अधिकारी) होता है।

हाल ही में भाजपा सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहनसिंह की SPG सुरक्षा हटाई है, इसके पहले गृह मंत्रालय ने सुरक्षा समीक्षा के आधार पर आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव, बिहार के सारण से भाजपा सांसद राजीव प्रताप रूडी की सुरक्षा हटा दी थी, जिसके बाद भी काफी बवाल हुआ था।

 

 

Share.