कश्मीर में नरसंहार पर दीदी का हमला!

0

जम्मू-कश्मीर(Jammu and Kashmir ) में आतंकी लगातार बेगुनाहों का खून बहा रहे हैं। अब उन्होने पाँच मजदूरों की हत्या कर दी है (Bengal Labourers Killed In Kashmir), जिसके बाद से घाटी में सभी सहमे हुए हैं। मारे गए सभी मजदूर कश्मीर से बाहर के हैं। जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए (Article 370 removed from Jammu and Kashmir) जाने के बाद से घाटी में ये सबसे बड़ा आतंकी हमला है। अब इस मामले पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (West Bengal Chief Minister Mamata Banerjee ) का बयान सामने आया है।

IRCTC 20 हजार रुपये लेकर बनाती है रेलवे टिकट एजेंट

मजदूरों के परिवारों को दीदी का सहारा

कश्मीर में मारे गए सभी मजदूर पश्चिम बंगाल के थे। घटना की जानकारी मिलने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Chief Minister Mamata Banerjee ) ने बुधवार को कहा कि कश्मीर में आतंकी हमलों में मारे गए मुर्शिदाबाद जिले के पांच श्रमिकों के परिवारों को सभी तरह की मदद दी जाएगी। उन्होने इसे लेकर ट्वीट किया कि कश्मीर में नृशंस हत्याओं से हम स्तब्ध और अत्यंत दुखी हैं। मुर्शिदाबाद के पांच कामगारों ने अपनी जान गंवा दी (Bengal Labourers Killed In Kashmir)। कोई भी सांत्वना मृतक के परिवारों के दुख को दूर नहीं कर सकता।  दुख की इस घड़ी में उनके परिवारों को सभी तरह की मदद दी जाएगी।

शिवसेना के बिना ही फड़नवीस के सिर पर महाराष्ट्र का ताज!

पाकिस्तानी आतंकियों (Pakistani terrorists ) ने आर्टिकल 370 (Article 370) हटाये जाने के विरोध में मजदूरों की हत्या कर दी थी। यह हमला ठीक उसी दिन हुआ जिस दिन घाटी के हालातों का जायजा लेने के लिए यूरोपीय सांसदों का 27 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल जम्मू-कश्मीर पहुंचा। यूरोपीय सांसदों के दौरे को देखते हुए सुरक्षा सख्त कर दी गई थी, जिसके बाद भी हुआ यह नरसंहार सुरक्षा के इंतज़ामों पर सवाल उठा रहा है। कुलगाम में पांच गैर कश्मीरी श्रमिकों के शव बरामद किए जाने के बाद इलाके में बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान छेड़ा गया। इसके पहले आतंकियों ने कई ट्रक वालों की हत्या की थी। घाटी से अनुच्छेद 370 हटाने के विरोध में आतंकवादी ऐसे ट्रकवालों और मजदूरों को निशाना बना रहे हैं, जो जम्मू-कश्मीर से बाहर के हो।

दिल्ली सरकार का लेजर शो बना पॉकेटमार शो

    – Ranjita Pathare

 

Share.