कार के माध्यम से करें मोटी कमाई

0

अब तक आपको कहीं भी किराये से गाड़ी लेकर जाना हो तो इसके लिए आपको टैक्सी बुलवाना पड़ती है | इन टैक्सियों के मालिकों के पास इसके लिए बाकायदा लाइसेंस होता है| अब सरकार कुछ परिवहन नियमों में बदलाव करने पर विचार कर रही है| यदि ऐसा हो गया तो आप अपनी प्राइवेट कार में भी सवारी (Ride in private car) बैठा सकेंगे |

Fire In Bhubaneswar Rajdhani Express : राजधानी एक्सप्रेस में लगी आग

उल्लेखनीय है कि आपके पास कार है तो आपके लिए एक खुशखबर है| अब आपके पास अपनी कार के माध्यम से मोटी कमाई का अच्छा मौका आने वाला है| दरअसल,  अब केंद्र सरकार प्राइवेट कार (Ride in private car) का कमर्शियल इस्तेमाल करने की जल्द इजाजत दे सकती है| इसके तहत प्राइवेट कार में सवारी ढोने की लिमिट एक दिन में 3  से 4 ट्रिप तक की होगी|

दरअसल, परिवहन मंत्रालय इस मामले के तहत व्हीकल पुलिंग नीति तैयार कर रहा है| इस नीति को मंजूरी देने से पहले यह सुनिश्चित किया जाएगा कि इससे सड़कों से कैब और टैक्सी सर्विस खत्म न हो| इसमें नीति आयोग की भी मदद ली जा रही है|

इतना ताकतवर है सेना का नया ‘अपाचे हेलीकॉप्टर’

रिपोर्ट के मुताबिक, सवारियों की सुरक्षा सुनिश्चित कराने के लिए प्राइवेट कार वालों (Ride in private car) को राज्य परिवहन निगम से मान्यता प्राप्त एग्रीगेटर से जोड़ा जाएगा| इसके बाद ऐसे एग्रीगेटर्स को यात्रियों की सुरक्षा के लिए उनका KYC (नो योर कस्टमर) करवाना होगा| यही नहीं, प्राइवेट कार वालों को सवारी ढोने के लिए बीमा भी करवाना होगा|

रिपोर्ट के मुताबिक, पर्सनल कार वालों (Ride in private car) का डेटा (KYC) संबंधित वाहन डेटाबेस (रजिस्टर्ड व्हीकल्स) में फीड कर दिया जाएगा| इससे वे एक से ज्यादा एग्रीगेटर से खुद को नहीं जोड़ सकेंगे| ऐसे में कार वाले अपनी ट्रिप बढ़ाने के लिए एग्रीगेटर से बारगेनिंग भी नहीं कर पाएंगे|

राजमोहल्ला से राजबाड़ा तक, प्रियंका देंगी दस्तक   

कार चालक इस सुविधा का लाभ उठा सकें, इसके लिए उनका सभी यातायात नियमों को जानना और उनका पालन करना आवश्यक होगा | पुलिस के मुताबिक़, ट्रैफिक नियमों की धज्जियां उड़ाने में कार चालक सबसे आगे हैं| पिछले साल जो आंकड़े आए थे, उनके अनुसार इंदौर शहर में ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने में कार चालक, (Ride in private car) दो पहिया वाहन चालकों से कहीं आगे हैं| पुलिस ने जो आंकड़े जारी किए थे उनके मुताबिक ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों में 78 प्रतिशत कार चालक हैं और इनमें 76 प्रतिशत कार चालक ऐसे हैं, जो शराब पीकर वाहन चलाते पकड़े गए हैं।

पुलिस ने कार्रवाई करते हुए महज 10 दिनों में यानी 20 से 29 जुलाई 2018 के बीच 150 लाइसेंस निरस्त करने की कार्रवाई की थी|  पुलिस से मिले आंकड़ों के मुताबिक, अब तक एक माह में ही 200 वाहन चालकों के लाइसेंस निरस्त किए हैं, जिनमें से 57 दो पहिया वाहन चालक हैं। इनमें से 174 लोग शराब पीकर वाहन चलाते पाए गए थे| इनमें 151 कार चालक (Ride in private car) और 23 दो पहिया वाहन चालक शामिल हैं।

Share.