website counter widget

महाराष्ट्र : सरकार गठन के लिए BJP को मिला राज्यपाल का न्योता

0

देश भर में जहां आयोध्या मामले में फैसला आ जाने के बाद से ख़ुशी का माहौल है और करतारपुर कॉरिडोर के खोले जाने से इस ख़ुशी में दोहरा इजाफा हुआ है। वहीं महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी (BJP) और शिवसेना (Shiv Sena) के बीच सरकार के गठन को लेकर खींचतान अभी भी जारी है। दोनों ही दलों के बीच आपसी सहमति नहीं बन पाई है। हालांकि महाराष्ट्र में हुए विधानसभा चुनाव में 105 सीटें जीतकर भाजपा प्रदेश की सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है। इस लिहाज से आज राजभवन से उसे प्रदेश में सरकार के गठन का न्योता मिला है। आज महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari) ने प्रदेश के सबसे बड़े दल भाजपा को सरकार बनाने का आमंत्रण भेजा है।

महाराष्ट्र के गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari) ने भाजपा (BJP) से कहा है कि यदि वह सरकार बनाना चाहती है तो सूचित करे। अगर भाजपा सरकार बनाने इस आमंत्रण को स्वीकार करती है तो उसे सदन में बहुमत साबित करना होगा। राज्यपाल ने भाजपा को सोमवार यानी 11 नवंबर रात 8 बजे तक बहुमत साबित करने का समय दिया है। यदि भाजपा इस आमंत्रण के बाद सरकार बनाने से इंकार कर देती है तो नियमानुसार राज्यपाल प्रदेश की दूसरी सबसे बड़ी पार्टी शिवसेना (Shiv Sena) को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करेगी। हालांकि 105 सीट जीतने के बाद और प्रदेश की सबसे बड़ी पार्टी होने के बाद भी भाजपा को बहुमत साबित करने के लिए 145 सीटें चाहिए।

इस विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा (BJP) और शिवसेना (Shiv Sena) ने मिलकर चुनाव लड़ा था। इसमें दोनों ने मिलकर 150 से भी ज्यादा सीटें जीतीं जो बहुमत के आकड़े से भी ज्यादा हैं। लेकिन चुनाव के नतीजे सामने आने के बाद से ही शिवसेना और बीजेपी के बीच 50-50 फॉर्मूले को लेकर खीचतान जारी है। जहां शिवसेना ढाई साल मुख्यमंत्री का पद चाहती है, वहीं भाजपा ने शिवसेना की इस बात से इंकार कर दिया है। कल यानि शुक्रवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया था। इसके बाद उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा, “मेरे सामने कभी भी उद्धव ठाकरे ने ढाई-ढाई साल के सीएम का प्रस्ताव नहीं रखा था।” हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि यदि गृह मंत्री अमित शाह के साथ उद्धव ठाकरे ने इस बारे में बात की है तो इसका उन्हें पता नहीं।

Prabhat Jain

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.