Maharashtra Conference Live : शिवसेना–एनसीपी-कांग्रेस की प्रेस कॉन्फ्रेंस 

0

महाराष्ट्र की राजनीति में  आज बवाल मचा हुआ है। बीजेपी देवेंद्र फडणवीस (Maharashtra Conference Live) के सीएम और अजीत पवार के डिप्टी सीएम की शपथ लेने के बाद सूबे की सियासत में हलचलें तेज हो गई है। अभी  तक  यह  किसी को भी समझ नहीं आ रहा है कि कौन किसके साथ है। अब शिवसेना–एनसीपी-कांग्रेस की साथ में  प्रेस कॉन्फ्रेंस ( Maharashtra Congress-NCP-Shiv Sena joint Press Conference) हो रही है।

मोदी मंत्रीमण्डल में शामिल शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले!

Maharashtra Congress-NCP-Shiv Sena joint Press Conference live :

बीजेपी को ना तो मित्र चाहिए और ना ही विपक्ष

उद्धव ठाकरे ने कहा कि शिवसेना जो करती है, वो दिन के उजाले में करती है। हम लोगों को जोड़ने की कोशिश करते हैं और वे लोग तोड़ने की कोशिश करते हैं। ये जो खेल चल रहा है, वो पूरे देश देख रहा है। उद्धव ठाकरे ने कहा कि बीजेपी को ना तो मित्र चाहिए और ना ही विपक्ष। इन लोगों ने हरियाणा और बिहार में भी यही किया था। आज जो हुआ है वो छत्रपति शिवजी महाराज पर सर्जिकल स्ट्राइक है।

महाराष्ट्र मे बनेगी एनसीपी-शिवसेना-कांग्रेस की सरकार : शरद पवार

मुझे यकीन है कि राज्यपाल ने उन्हें बहुमत साबित करने का समय दिया है, लेकिन वे इसे साबित नहीं कर पाएंगे। उसके बाद हमारी तीन पार्टियां सरकार बनाएंगी जैसा हमने पहले तय किया था।पार्टियों के पास अपने विधायकों की सूची सभी विधायकों द्वारा हस्ताक्षर के साथ थी, एनसीपी की एक ऐसी ही सूची अजीत पवार के पास थी, क्योंकि वह एनसीपी के सीएलपी थे। मुझे लगता है कि उन्होंने वही सूची प्रस्तुत की है। मुझे इसे यकीन के साथ नहीं कह सकता, लेकिन मुझे संदेह है कि ऐसा हो सकता है। हम राज्यपाल से चर्चा करेंगे।

अजित पवार के विधायक शरद पवार के साथ

अजीत पवार ने मुझे कुछ चर्चा करने के लिए बुलाया था और वहां से मुझे अन्य विधायकों के साथ राजभवन ले जाया गया। इससे पहले कि हम समझ पाते शपथ समारोह पूरा हो गया। मैं पवार साहब के पास गया और उनसे कहा कि मैं शरद पवार और एनसीपी के साथ हूं।

शरद पवार का बयान

शरद पवार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस  में कहा कि हम बीजेपी के सख्त खिलाफ हैं । NCP अजित पवार के साथ नहीं  है।सरकार बनाने के लिए कांग्रेस, शिवसेना और एनसीपी नेता एक साथ आए। हमारे पास संख्या थी। हमारे साथ हमारे आधिकारिक नंबर थे। कई निर्दलय विधायक भी हमारे साथ थे और हमारी संख्या 170 के आसपास थी। अजीत पवार का फैसला पार्टी लाइन के खिलाफ है और अनुशासनहीनता है। कोई एनसीपी नेता या कार्यकर्ता एनसीपी-भाजपा सरकार के पक्ष में नहीं है।सभी विधायक जो जा रहे हैं, उन्हें पता होना चाहिए कि एक दलबदल कानून भी होता है और उनकी विधानसभा सदस्यता खोने की संभावना है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस शामिल नहीं

कांग्रेस इस प्रेस कॉन्फ्रेंस  में शामिल  नहीं हुई  है।

अजित पवार हो सकते हैं पार्टी से बाहर

सूत्रों का कहना है कि एनसीपी के अजित पवार को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है।

बैठक से पहले लगे शरद पवार के समर्थन में नारे

शिवसेना–एनसीपी-कांग्रेस की साथ में प्रेस कॉन्फ्रेंस (Maharashtra Conference Live) वाईबी चव्हाण सेंटर में होने वाली है। इसके लिए एनसीपी प्रमुख शरद पवार, कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और अहमद पटेल साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए पहुंच चुके हैं। इस दौरान मीडिया ने शरद पवार से बात करने की कोशिश की तो उन्होंने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया।

झारखंड में चुनाव के पहले बड़ा नक्सली हमला, कई जवान शहीद

कैलाश विजयवर्गीय: बताइये शिवसेना में शकुनि मामा कौन है?

        – Ranjita Pathare 

Share.