NCP से बगावत के बाद भी अजित पवार फिर बने डिप्टी CM

0

महाराष्ट्र की राजनीति का तूफान अब शांत हो गया है, इससे शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस (Shiv Sena-NCP and Congress alliance ) के नेता तो राहत की सांस ले रहे हैं, लेकिन बीजेपी वाले अभी भी इस गम से उबर नहीं पा रहे हैं कि आखिर सबसे ज्यादा सीटी हासिल करने के बाद, शपथ ग्रहण हो जाने के बाद भी उन्हें सफलता क्यों नहीं मिली। बीजेपी के साथ सबसे बड़ा धोखा और राजनीति में  सबसे बड़ी हलचल तो तब हुई थी जब अजित पवार (Ajit Pawar ) अपने विधायकों के साथ बीजेपी में आ गए और बाद ने झटका दे दिया।

पीएम मोदी विदेश यात्राओं के दौरान होटल में रुकने की बजाय एयरपोर्ट पर ही रुकते हैं.

अजित पवार ने जैसे ही डिप्टी सीएम की शपथ ली थी वैसे ही सियासी भूचाल आ गया था। उस समय बीजेपी की खुशी सातवे आसमान पर थी, वहीं एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना जैसी पार्टियां चौंक गई थी, क्योंकि कुछ समय पहले तक उद्धव ठाकरे से सीएम  बनने पर मंथन हो रहा था और अचानक सरकार बन जाता सभी के लिए चिंता का कारण बन गया था। पहले तो लगा जैसे अजित पवार को शरद पवार का समर्थन है, लेकिन कुछ समय बाद ही अजित पवार के साथ गए विधायकों ने उन्हें छोड़ दिया और  वे लौटे गए। अजित एक समय पर सीएम फड़नवीस और एनसीपी दोनों  के साथ रहना चाहते थे, लेकिन ऐसा संभव न था। इसके बाद उन्हें डिप्टी सीएम के पद से इस्तीफा दे दिया।

आतंकी गोडसे की भक्त साध्वी प्रज्ञा ठाकुर आतंकवादी

महाराष्ट्र में बीजेपी सरकार गिरते ही शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस के लिए सरकार बनाने का रास्ता खुल गया। अजित पवार एनसीपी में वापस आकर हीरो बन गए, लेकिन अब न ही वे डिप्टी सीएम है और न  ही एनसीपी विधायक दल के नेता, लेकिन अभी भी उन्हे डिप्टी सीएम बनाने को लेकर मंथन हो रहा है। अजित पवार के बारे में शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि अजित पवार को गठबंधन में ठीक स्थान मिलेगा, वो बहुत बड़ा काम करके आए हैं। वहीं राऊत ने  कुछ समय पहले कहा था कि बीजेपी द्वारा अजित पवार को ब्लैकमेल किया गया । बीजेपी ईडी और सीबीआई का डर दिखाकर सत्ता में आना चाहती है।  अब जब नई सरकार बनाने में  अजित पवार ने  अहम भूमिका निभाई है, बीजेपी कि सरकार गिराई है तो उन्हें शरद पवार ने भी माफ कर दिया है । विधायक पद की शपथ लेने के बाद अजित पवार ने कहा कि मैं एनसीपी में था और हूं।

ट्रंप ने किए हांगकांग विधेयक पर हस्ताक्षर, चीन ने दी चेतावनी

       – Ranjita Pathare

 

 

Share.