आखिर मोदीजी ने पासपोर्ट पर क्यों छ्पाया कमल ?

0

दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party ) के सत्ता मे आने के बाद भाजपा ने कई चीजों का भगवाकरण कर दिया था, लेकिन अब बीजेपी सभी पर कमल का छाप भी लगा रही है। अब भाजपा ने पासपोर्ट पर भी कमल की छाप (Lotus flower on passport) छोड़ दी है। भारतीय पासपोर्ट पर कमल का फूल बवाल का नया कारण बन गया है। इस मामले पर संसद के शीतकालीन सत्र (Winter Session of Parliament ) मे  जमकर बहस चली। कोझीकोड से कांग्रेस सांसद एम.के. राघवन (Congress MP M.K. Raghavan ) ने सवाल किया कि नए पासपोर्ट में कमल का फूल क्यों बनाया (Why make lotus flower in new passport ) जा रहा है। मामला इतना बढ़ गया कि इस पर विदेश मंत्रालय को सफाई भी देनी पड़ेगी।

NRC को नही मान रहे BJP के नेता

देश का होगा भगवाकरण

कांग्रेस के एम.के. राघवन (Congress MK Raghavan ) का कहना है कि ये कदम ‘भगवाकरण’ करने के लिए उठाया गया है, क्योंकि कमल का फूल बीजेपी का सिंबल है। इन पासपोर्ट्स को वापस लिया जाए और इस मामले की जांच की जाए। बीजेपी देश का भगवाकरण करना चाहती है। कमल का फूल पासपोर्ट में उस जगह बना है, जहां पासपोर्ट अधिकारी साइन करते हैं और सील लगती है।

मध्य प्रदेश के बीना में निकली 28 BJP सांसदों की शव यात्रा!

इस मामले पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी (Senior Congress leader Adhir Ranjan Chaudhary ) का कहना है कि सुरक्षा बढ़ाने के लिए ये कदम उठाया गया है। दूसरे राष्ट्रीय प्रतीकों का इस्तेमाल भी पासपोर्ट में रोटेशनल बेसिस पर किया जाएगा। उन्होने विदेश मंत्री एस. जयशंकर (Foreign Minister S. Jaishankar) से जवाब की भी मांग की है। वहीं विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने सफाई देते हुए कहा कि कमल हमारा राष्ट्रीय फूल है। फेक पासपोर्ट रोकने के लिए, सुरक्षा को बढ़ाने के लिए हमने पासपोर्ट में इसे छापा है। कमल के अलावा बाकी राष्ट्रीय प्रतीकों का इस्तेमाल भी किया जाएगा। अभी हमने कमल का छापा है। अगले महीने पासपोर्ट में कोई और प्रतीक बनाया जाएगा।  ये सारे प्रतीक भारत से जुड़े हुए हैं।

अजित पवार को ढाई साल का CM बनाएगी BJP

      – Ranjita Pathare

 

Share.