website counter widget

सीट शेयरिंग को लेकर झारखंड में BJP और LJP में खींचतान

0

रांची: झारखंड विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Elections 2019) के लिए विपक्षी महागठबंधन ने 8 नवंबर को सीट बंटवारे की घोषणा कर दी. महागठबंधन में झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो), कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के शामिल होने की घोषणा की गई, और कहा गया कि महागठबंधन से झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन मुख्यमंत्री के उम्मीदवार होंगे.

महाराष्ट्र में BJP के विधायकों ने NCP को दिया समर्थन!

लेकिन वही इसके विपरीत बीजेपी (BJP) के साथ एलजेपी (LJP) का गठबंधन टूट के कगार पर पहुंच गया है. दोनों पार्टियों में जरमुंडी सीट को लेकर बात नहीं बन रही है . एलजेपी अपने प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र प्रधान के लिए यह सीट चाह रही थी, लेकिन बीजेपी ने देवेंद्र कुंवर को यहां से उम्मीदवार बना दिया है. साथ ही एलजेपी चुनाव में गठबंधन के तहत 6 सीटें चाह रही है लेकिन इन सब पर एलजेपी और बीजेपी के बीच बात बनते नहीं नजर आ रही है (Jharkhand Assembly Elections 2019)। ऐसे में अब एलजेपी गठबंधन से अलग अकेले अपने दम पर चुनाव लड़ सकती है. ऐसा कहा जा रहा है की पार्टी 37 सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है. प्रदेश नेतृत्व ने 37 उम्मीदवारों की सूची पार्टी अध्यक्ष चिराग पासवान को सौंपी है. पिछले दो दिनों से भाजपा और एलजेपी के बीच सीट शेयरिंग को लेकर बातचीत जारी है लेकिन अब यह बातचीत सफल होती नहीं दिख रही है। इसलिए अब एलजेपी अकेले दम पर 37 सीटों में चुनाव लड़ सकती है।

क्या मोदी के आदेश पर सनी गए पाकिस्तान

जानकारी के अनुसार झारखंड (Jharkhand) में विधानसभा चुनाव की तारीखों का एलान कर दिया है. झारखंड में पांच चरणों में विधानसभा के चुनाव होंगे. पहले चरण का मतदान 30 नवंबर को होगा. 7 दिसंबर को दूसरे, 12 दिसंबर को तीसरे चरण के तहत वोटिंग होगी. वहीं, चौथे चरण की वोटिंग 16 दिसंबर को जबकि 20 दिसंबर को पांचवें चरण की वोटिंग होगी. विधानसभा का कार्यकाल 5 जनवरी को खत्म होगा.

कांग्रेस के हाथ में महाराष्ट्र की सत्ता की चाबी!

-Mradul tripathi

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.