website counter widget

भारतीय सेना में पहली महिला न्यायाधीश की हुई नियुक्ति

0

भारतीय सेना में पहली बार किसी महिला न्यायाधीश की नियुक्ति की गई है. लेफ्टिनेंट कर्नल ज्योति शर्मा को भारतीय सेना की महिला न्यायाधीश एडवोकेट जनरल (lieutenant colonel jyoti sharma) अधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया है. ज्योति शर्मा सैन्य विधि विशेषज्ञ के रूप में पूर्वी अफ्रीकी देश सेशेल्स की सरकार को सेवाएं देंगी. भारतीय सेना में आज से एक नया इतिहास जुड़ गया है . भारतीय सेना में पहली बार किसी महिला न्यायाधीश की नियुक्ति की गई है. इससे पहले भारतीय सेना में कोई भी महिला जज की नियुक्ति नहीं की गई थी. लेफ्टिनेंट कर्नल ज्योति शर्मा को महिला न्यायाधीश एडवोकेट जनरल अधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया है. ज्योति विदेश से जुड़े मामलों को देखेंगी.

राफेल डील पर मोदी को क्लीन चिट से बढ़ी कांग्रेस की मुसीबत

Video: एंबुलेंस के इंतजार में लावारिस पड़ा रहा महान गणितज्ञ का शव

भारत में जज एडवोकेट जनरल (lieutenant colonel jyoti sharma) अधिकारी के पद पर सेना के लेफ्टिनेंट जनरल को नियुक्त किया जाता है. यह सेना के कानूनी और न्यायिक प्रमुख होते हैं. भारतीय सेना की जज एडवोकेट जनरल एक अलग शाखा है, जिसमें कानूनी रूप से योग्य सेना के अधिकारी शामिल होते हैं. जज एडवोकेट जनरल अधिकारी सभी पहलुओं में सेना को कानूनी मदद प्रदान करते हैं

शिवसेना की बीजेपी को चेतावनी, कही बड़ी बात

.-Mradul tripathi

 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.