Kumbh Mela 2019 : धर्म संसद ने दिखाया पीएम पर भरोसा

0

प्रयागराज में कुंभ क्षेत्र में आयोजित विश्व हिन्दू परिषद् (Vishva Hindu Parishad) धर्म संसद का आज दूसरा दिन है। इस धर्मसंसद के दूसरे दिन संतो ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) पर विश्वाश जताया है। संतों ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए प्रतिबद्ध हैं। संतों का कहना है कि केंद्र सरकार द्वारा सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई याचिका इस बात को सिद्ध करती है कि, सरकार मंदिर निर्माण को लेकर प्रतिबद्ध है। संतों ने कहा कि संत समाज को केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पूरा भरोसा है। साथ ही संतों ने आगमी लोकसभा चुनाव तक मंदिर निर्माण को लेकर आंदोलन स्थगित करने की बात कही है।

Budget 2019 : बजट पर मोदी के बोल

संगम नगरी के कुंभ मेला क्षेत्र में शुक्रवार 1 फ़रवरी को धर्म संसद का दूसरा और आखिरी दिन है। ऐसे में राम मंदिर निर्माण को लेकर कोई बड़ा फैसला आने की संभावना जताई जा रही है। संगम नगरी में कुंभ से पहले ही राम मंदिर निर्माण का मुद्दा काफी गरमाया हुआ है। धर्म संसद के पहले दिन इस मुद्दे को हिंदुओं की आस्था पर चोट करार देते हुए आंदोलन करने का ऐलान किया गया था। स्वामी वासुदेवानंद की अध्यक्षता में धर्म संसद का आयोजन किया गया है। इस धर्म संसद में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सर संघचालक मोहन भागवत, योग गुुरु बाबा रामदेव सहित अनेक साधु संत मौजूद हैं।

केंद्र सरकार पर राहुल का तीखा वार

सभी की मजूदगी में इस धर्म संसद में ‘हिंदू समाज के विघटन का षड्यंत्र रोकने’ का प्रस्ताव भी पारित हुआ। इस धर्मसंसद के पहले दिन यानी गुरुवार को पूरे दिन कवायद चलती रही। इस धर्म संसद में संघ, सरकार और संत तीनों अपनी-अपनी रणनीति बनाने में उलझे रहे। धर्म संसद में उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और संघ प्रमुख मोहन भागवत के बीच तकरीबन डेढ़ घंटे तक चर्चा चली। योगी आदित्यनाथ इस धर्म संसद में सरकार की स्थिति को संतो के समक्ष स्पष्ट करने आए थे। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार मंदिर निर्माण को लेकर प्रतिबद्ध है और जल्द से जल्द मंदिर निर्माण करना चाहती है, लेकिन कोर्ट की वजह से इसमें समय लग रहा है। सुप्रीम कोर्ट में मामला होने की वजह से सरकार चाहकर भी इस मुद्दे पर जल्दीबाजी नहीं कर पा रही है। मुख्यमंत्री योगी ने शंकराचार्य निश्चलानंद को मंदिर निर्माण को लेकर आश्वासन दिया और कहा कि मंदिर जरूर बनेगा, लेकिन उसके लिए थोड़ा समय चाहिए।

धर्म संसद के आखिरी दिन ज्यादा से ज्यादा संख्या में संत पहुंचे थे। प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) भी धर्मसंसद में क्या चल रहा है, इसकी पल-पल की खबर ले रहा है। केंद्र और प्रदेश सरकार की निगाह भी धर्म संसद पर लगी हुई है।

(प्रभात)

बजट 2019 : कर्जमाफी के नहले पर सरकार का दहला

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News
Share.