Kulbhushan Jadhav Live Updates : पाक ने किया संधि का उल्लंघन

0

सालों से पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण यादव के मामले में हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में सुनवाई (Kulbhushan Jadhav Case Public Hearing Live Updates) शुरू हो गई है| सोमवार से शुरू हुई यह सुनवाई चार दिन तक चलेगी| सार्वजनिक सुनवाई में भारत और पाकिस्तान अपना-अपना पक्ष रखेंगे| जाधव को पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने जासूसी के आरोप में मौत की सजा सुनाई है| वहीं भारत ने कहा है कि जाधव निर्दोष हैं| पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने अप्रैल 2017 में जासूसी और आतंकवाद के आरोपों पर जाधव को फांसी की सजा सुनाई थी|

Image result for कुलभूषण जाधव

Kulbhushan Jadhav Case Public Hearing Live Updates :

ICJ hearing on Kulbhushan Jadhav case

भारतीय पक्ष की दलील पेश – 

# हरीश साल्वे ने कहा कि यदि अनुच्छेद 36 इस बात की इजाजत देती है कि उन सभी मामलों में जिसमें इस तरह के आरोप लगाए जाते हैं तो उसी अनुच्छेद के तहक कंसुलर एक्सेस की मांग करना अधिकारों की बेजा मांग नहीं हो सकती है|

#  पाकिस्तान सरकार को इस संबंझ में पुख्ता व्याख्या करनी चाहिए कुलभूषण जाधव तो कंसुलर एक्सेस देने में तीन महीने की समय की जरूरत क्यों पड़ी| अगर सार्क कंन्वेंशन को देखें और ट्रीटी के पैरा-4 को देखें तो ये साफ है कि पाकिस्तान की तरफ से प्रतिबद्धताओं को पूरा नहीं किया गया|

# भारत की ओर से वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे ने कहा कि पाकिस्तान ने जाधव केस में वियना संधि का उल्लंघन किया और उन्हें कॉन्सुलर मदद नहीं पहुंचने दी| जाधव को उनके अधिकारों से वंचित रखा गया| विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने उल्लेख किया था कि जाधव के अधिकारों की सुरक्षा के लिए भारत सभी प्रयास करने को प्रतिबद्ध है| कुमार ने पिछले सप्ताह नई दिल्ली में एक सवाल के जवाब में कहा था, “भारत अदालत में अपना मामला रखेगा|”

# पाकिस्तान ने लगातार तीन सालों तक जाधव को शारीरक रूप से परेशान किया| उनसे जबरन अपराध कबूल करवाया| पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ प्रोपगैंडा फैलाने लिए आईसीजे के मंच का इस्तेमाल किया| जाधव को ईरान से अगवा कर पाकिस्तान लाया गया और इसके सबूत भारत के पास हैं|

# जाधव को कॉन्सुलर मदद मुहैया कराने के लिए अलग-अलग समय पर पाकिस्तान को 13 रिमांडर भेजे गए लेकिन इस पर उसने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी|

# इस मामले में पाकिस्तान के पास कोई ठोस सबूत नहीं हैं| जाधव मामले में पाकिस्तान का केस तथ्यों पर नहीं बल्कि कही-सुनी बातों पर आधारित है|

# पाकिस्तान ने जाधव के परिवारवालों से मिलने की इजाजत दी उन्हीं शर्तों पर 25 दिसंबर 2017 को कुलभूषण जाधव से मुलाकात हुई| लेकिन जिस तरह से परिवार वालों से मुलाकात कराई गई उससे भारत हैरान था| इस संबंध में भारत ने ऐतराज जताते हुए 27 दिसंबर 2017 को पाकिस्तान सरकार को खत भी लिखा गया|

# भारत ने जाधव को कॉन्सुलर मदद देने के लिए 30 मार्च 2016 को पाकिस्तान को याद दिलाया लेकिन पाकिस्तान से कोई जवाब नहीं मिला| पाकिस्तान को इस दौरान 13 रिमांडर भेजे गए|

पाकिस्तान का दावा है कि उसके सुरक्षाबलों ने जाधव को अशांत बलूचिस्तान प्रांत से तीन मार्च 2016 को तब गिरफ्तार किया था, जब उन्होंने ईरान से प्रवेश किया था| वहीं, भारत का कहना है कि जाधव का ईरान से अपहरण किया गया जहां वह सेवानिवृत्ति के बाद व्यवसाय करने गए थे|आईसीजे ने मामले में सार्वजनिक सुनवाई के लिए 18 से 21 फरवरी तक का समय निर्धारित किया था. यह सुनवाई द हेग, नीदरलैंड स्थित पीस पैलेस में हो रही है|

रेलवे स्टेशन को उड़ाने की धमकी से मचा हड़कंप

पाकिस्तानी बच्चों का दिल हिन्दुस्तानी

Suicide Attack : अब दहला पाकिस्तान, 9 सैन्यकर्मियों की मौत

       – रंजीता 

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.