website counter widget

कश्मीरी युवक ने बनाया आतंकी कैंप को तबाह करने वाला ड्रोन

0

देश में टेलेंट की कोई कमी नहीं है। हमारे देश के युवाओं ने इस बात को कई बार सिद्ध भी किया है। ऐसा ही एक कारनामा के कश्मीरी युवा ने कर दिखाया है। दरअसल इस युवा ‘उबेर’ ने एक ऐसा ड्रोन बनाया है जो सीमा पार स्थित आतंकी कैंपों को पलक झपकते ही तबाह कर देगा। जी हां आपने बिल्कुल ठीक पढ़ा उबेर के द्वारा तैयार किया गया यह ड्रोन आतंकियों के लिए उनका काल साबित होगा। उबेर ने अपने इस ड्रोन को ‘स्वास्तिक’ (Swastik Drone) नाम दिया है।

उबेर ने अपने ड्रोन (Swastik Drone) के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि उसने इस ड्रोन को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस टेक्नोलॉजी से लैस किया है। मतलब कि इस तकनीक की सहायता से ड्रोन खुद ही इस बात की पहचान कर सकेगा कि आतंकियों की भीड़ कहां है? यह तकनीक ड्रोन को उसका टारगेट पहचाने में मदद करेगी जिसके बाद ड्रोन अपने टारगेट को तबाह करने के लिए बम की बारिश कर देगा।

यह सिर्फ आतंकियों को जहन्नुम नहीं पहुंचाएगा बल्कि इस ड्रोन की और भी कई खासियत हैं। उबेर का कहना है कि इस ड्रोन (Swastik Drone) की सहायता से भीड़ को काबू करने के लिए आंसू गैस छोड़े जा सकते हैं। इसके अलावा देश में बाढ़ की भयावह स्थिति से निपटने के लिए ड्रोन की सहायता से बाढ़ में फंसे लोगों को भोजन और राहत सामग्री पहुंचे जा सकती है।

उबेर ने बताया कि यह ड्रोन लाइन अप डायरेक्शन में 20 किलोमीटर तक हमला करने में सक्षम है। कश्मीरी युवा उबेर अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी में पढ़ा हुआ है। वहीं उबेर ने मीडिया को बताया कि एक ऑपरेशन के दौरान 10 से अधिक ड्रोन (Swastik Drone) को एक साथ चलाया जा सकता है। उबेर का कहना है कि एक ड्रोन आधा किलो से लेकर 8 किलो तक का सामान ले जाने की क्षमता रखता है। यह ड्रोन 30 मीटर तक की ऊंचाई तक उड़ान भर सकता है। स्वास्तिक ड्रोन का आकर 1X1 मीटर है और इसके निर्माण में 80 हजार रुपए की लागत लगी है।

Prabhat Jain

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.