कर्नाटक में कांग्रेस की हार के बाद सिद्धारमैया का इस्तीफा

0

कर्नाटक उपचुनाव (Karnataka Bypoll) में बीजेपी (BJP) के सामने कांग्रेस की हवा उड़ गई है। बीजेपी सत्ता में आ रही है और अब कांग्रेस इस करारी हार के बाद किसी से नजारे मिलाने के लायक भी नहीं बची है। 15 सीटों पर हुए उपचुनाव के बाद कर्नाटक में सत्तारूढ़ भाजपा (B J P)  ने उपचुनावों में 12 सीटें जीतकर (BJP wins in Karnataka by-election ) बहुमत हासिल कर लिया है। ये फैसला (Karnataka Bypoll Result 2019) आने के बाद कांग्रेस के खराब प्रदर्शन के कारण  सिद्धारमैया (Siddaramaiah) ने विपक्ष के नेता के पद से इस्तीफा दे दिया है।

नेशनल होम्योपैथी सेमिनार में मरीज़ों ने सुनाया अपना अनुभव

हमे हार स्वीकार है

उपचुनाव के परिवान आने के बाद बाद कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता डीके शिवकुमार (Senior Congress leader DK Shivkumar) का कहना है कि हम हार स्‍वीकार कर रहे हैं। हमें जनादेश से सहमत होना ही होगा। जनता ने दलबदलुओं को स्‍वीकार कर लिया है। जुलाई में कर्नाटक के 17 विधायकों ने इस्‍तीफा दे दिया था। इनमें 15 सीटों के लिए उपचुनाव कराया गया। वहीं कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा (Karnataka Chief Minister BS Yeddyurappa ) का कहना है कि मतदाताओं ने अपना फैसला दे दिया और नतीजे आ चुके हैं। अब हमें राज्य के विकास पर ध्यान केंद्रित करना है (Karnataka Bypoll Result 2019)। मैं अपने मंत्रियों और विधायकों की मदद से अगले तीन साल के लिए सुशासन दूंगा। इसके साथ  ही उन्होंने अपना कार्यकाल निर्बाध रूप से पूरा करने के लिए विपक्ष का समर्थन मांगा।

कैलाश बनेंगे बंगाल के मुख्यमंत्री, ममता के मंत्री बीजेपी में शामिल!  

सीएम येदियुरप्पा (CM Yeddyurappa statement ) ने आगे कहा कि विपक्ष लोगों के बीच भ्रम पैदा करने की कोशिश कर रहा है। मैं उनसे अपील करता हूं कि कम से कम अब से अपना पूरा समर्थन हमें दें। हमने विधानसभा की सदस्यता से अयोग्य करार दिये गए सभी विधायकों को आश्वासन दिया था कि उन्हें मंत्री बनाया जाएगा। इसलिए उनसे वादाखिलाफी करने का कोई सवाल ही नहीं है। हम उन्हें मंत्री बनाएंगे।

आतंक, नक्सल और बलात्कार के लिए नेहरू जिम्मेदार!

 

         – Ranjita Pathare 

Share.