VIDEO: बाढ़ में फंसी एम्बुलेंस के लिए 12 साल का बच्चा बना मसीहा

0

देश के कई राज्यों में बाढ़ के कारण त्राहि मची हुई है। जन –जीवन अस्त-व्यस्त हो चुका है। लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है। बारिश ने काल बनकर बाढ़ का रूप lले लिया है। इसी भयवाह माहौल में एक बच्चे की बहादूरी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल (Video viral on social media) हो रहा है, जो कुछ लोगों के लिए देवदूत बनकर पहुंचा। कर्नाटक के रायचूर जिले के एक 12 साल एक बच्चे (12 Year Old Boy Venkatesh From Raichur Guided Ambulance) ने खुद की जान जोखिम में डालकर बिना कुछ सोचे बाढ़ में फंसी एंबुलेंस को रास्ता दिखाया। वह जान की परवाह किए बगैर पानी में घुस गया। एम्बुलेंस में 6 बच्चों समेत एक मृत महिला का शव भी था। बच्चे की बहादूरी की सभी तारीफ कर रहे हैं।

DPS स्कूल टीचर ने स्वतंत्रता दिवस पर क्लास में की आत्महत्या

ड्राइवर को रास्ता नहीं दिख रहा था (12 Year Old Boy Venkatesh From Raichur Guided Ambulance)

जानकारी के अनुसार, रायचूर जिले में हीरेरायनकुंपी गांव में 12 साल का वेंकटेश जब अपने दोस्तों के साथ खेल रहा था तो वह उस वक्त पानी में कूद गया जब एम्बुलेंस के ड्राइवर को आगे जाने के लिए रास्ता नहीं दिख रहा था।  ऐसे में वह सही रास्ते की जानकारी के लिए पास में खेल रहे कुछ बच्चों के पास पहुंचा। इसके बाद वेंकटेश ने ड्राइवर से कहा कि वो उसके पीछे-पीछे आए। वेंकटेश के दोस्तों ने उसे पानी की तेज धारा को लेकर आगाह भी किया था, लेकिन उसने किसी भी चीज की परवाह नहीं की और गीरते पड़ते एंबुलेस को रास्ता दिखाता रहा। इस घटना को वहां मौजूद किसी शख्स ने अपने मोबाइल कैमरे में कैद कर लिया और उसे वायरल कर दिया।

12 Year Old Boy Venkatesh From Raichur Guided Ambulance Video :

नागालैंड में आज़ादी पर तिरंगा क्यों नहीं फहराया गया ?

बहादूरी का मिला परिणाम

वेंकटेश की बहादुरी की कहानी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई। जब इसके बारे में वहाँ के लोगों को पता चला तो उन्होने बच्चे से इसके बारे मे पूछा। वेंकटेश ने सिर्फ इतना कहा कि उसे पता नहीं कि उसने क्या बहादुरी का काम किया है। मैं सिर्फ ड्राइवर की मदद करना चाहता था। कर्नाटक सरकार में वरिष्ठ आईएएस अधिकारी कैप्टन मणिवन्नन ने भी सरकार को पत्र लिखकर वेंकटेश को उसके इस साहसिक काम के लिए वीरता पुरस्कार देने की सिफारिश की थी। वहीं बच्चे को 15 अगस्त भी उसकी बहादूरी के लिए सम्मानित किया गया।

Article 370 पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई वकील को फटकार, कहा…

 

Share.