कन्हैया कुमार को पसंद नहीं आया आदित्य ठाकरे की चुनावी डेब्यू!

0

शिवसेना के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे (Shiv Sena President Uddhav Thackeray ) के बेटे आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray ) ने आज महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Elections 2019 ) के लिए नामांकन कर दिया है। आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray Contest In Election) के नामांकन के बाद कई लोगों ने उन्हें शुभकामनाएँ दी, लेकिन भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPI) के नेता कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) ने शिवसेना (Shiv Sena) नेता आदित्य ठाकरे (Aaditya Thackeray) पर बड़ा बयान दिया है।

खुले में शौच करने पर फिर एक मासूम की पीटकर हत्या

वंशवाद की राजनीति

आदित्य ठाकरे (Aaditya Thackeray) के राजनीति में डेब्यू पर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPI) के नेता कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar)  ने इसे वंशवाद से जोड़ दिया। उनका कहना है कि राजनीति हो या बिजनेस का क्षेत्र, हर जगह वंशवाद हावी है। एक समय था जब बीजेपी (Bharatiya Janata Party) वंशवाद को लेकर गांधी (Gandhi family ) और पवार परिवार (Pawar family ) की आलोचना करती थी, लेकिन इस बार बीजेपी (bjp) ने अपने 125 उम्मीदवारों की सूची जारी की है, उसमें हर छठा उम्मीदवार किसी नेता का बेटा या बेटी है। क्या यह वंशवाद नहीं है?

पाकिस्तान जाने की तैयारी कर रहे पूर्व पीएम मनमोहन सिंह

ठाकरे परिवार से पहले बार कोई लड़ रहा चुनाव

आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray Contest In Election) बाला साहब ठाकरे (Balasaheb Thackeray ) परिवार के ऐसे पहले व्यक्ति है जो चुनाव लड़ रहे हैं। विधानसभा चुनाव (Assembly elections ) में आदित्य मुंबई की वर्ली सीट से मैदान मे उतरे हैं। वे जब नामांकन दाखिल करने गए थे, तो उनके साथ सैकड़ों लोग भी मौजूद थे। इस पर कन्हैया कुमार का कहना है कि सत्ता ने पूरे देश में ईडी का गलत इस्तेमाल किया है। बीजेपी की सरकार ने अपने विरोधियों को परेशान करने के लिए सरकारी एजेंसियों का इस्तेमाल किया। बीजेपी देश को कांग्रेस मुक्त करना चाहती थी, लेकिन खुद अब कांग्रेस युक्त हो गई है। वहीं शिवसेना को अपने साथ शामिल कर वैसा ही करना चाहती है।

फ़्रांस में पाक के कश्मीर कार्यक्रम पर भारत ने लगवाई रोक

    – Ranjita Pathare

Share.