website counter widget

Kamlesh Tiwari Murder Case : राजनीतिक दलों पर कुमार विश्वास ने उठाए सवाल  

0

हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष (President of hindu samaj party)  कमलेश तिवारी की हत्या (Kamlesh Tiwari Murder Case) के बाद देश में धार्मिक युद्ध छिड़ गया है। सोशल मीडिया पर हिन्दू – मुस्लिम की लड़ाई साफ दिख रही है, लेकिन फिर भी इस मामले पर अभी तक किसी भी राजनीतिक दल का बयान नहीं आया है। इस बात से कई लोग परेशान है। कमलेश तिवारी के परिजन सीएम योगी आदित्यनाथ  (CM Yogi Adityanath) से मिले, लेकिन वे संतुष्ट नहीं हुए, इसके बाद कमलेश तिवारी की मां का बयान सामने आए हैं, जिसका डॉ. कुमार विश्वास ने समर्थन किया।

कमलेश तिवारी की मां के बयान के बाद कुमार विश्वास ने  ट्वीट किया कि निकम्मी व्यवस्था आपके घरवालों को मार भी दे तब भी उस व्यवस्था के स्वयंभू मालिकों के दरबार में जाना ही होगा ! सनातन संस्कारों में मृत्यु के बाद तेरहवीं तक परिजन घर नहीं छोड़ सकते पर मरनेवाला चाहे क़ानून का रखवाला बुलंदशहर का इंसपैक्टर हो या कट्टरपंथियों का शिकार,जाना पढ़ेगा दरबार.।

इसके पहले भी  कुमार विश्वास ने इस मामले पर ट्वीट किया था। उन्होने राजनीतिक दलों कि चुप्पी पर सवाल उठाया था और कहा था कि  दूसरे मज़हब पर दिया उसका बयान क़ानूनी दायरे में अपराध था और उसकी वह सजा भी काट रहा था लेकिन जिस जाहिल तालिबानी सोच ने दिन दहाड़े #KamleshTiwariMurder किया उससे नज़र चुराकर निकलने वाले ये नहीं जानते कि ऐसी कट्टरताओं पर राजनैतिक फ़ायदे के लिए चुप्पी साधना पूरे देश को भारी पड़ता है।

जहां सीएम योगी से मुलाक़ात के बाद कमलेश तिवारी की मां आशंतोष जाता रही है वहीं कुछ लोगों का कहना है कि मुख्‍यमंत्री ने अपने आवास पर कमलेश तिवारी की मां कुसुमा, पत्‍नी किरण और परिवार के कुछ अन्य सदस्यों से मुलाकात की। इस दौरान उन्‍होंने पीड़ित परिवार को पूरी मदद का आश्‍वासन देते हुए कहा था कि सरकार इस गंभीर मामले की गहराई से जांच कर रही है और इसके दोषी लोगों को कतई बख्‍शा नहीं जाएगा।

    – Ranjita Pathare 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.