बीजेपी के नए अध्यक्ष कैलाश विजयवर्गीय !

0

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections ) में भाजपा को बड़ी जीत हासिल हुई थी। अकेले दम पर बीजेपी ने चुनावी रण जीत लिया। इस जीत का श्रेय जैसे गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah ) को पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi ) को मिल रहा है वैसे ही कहीं न कहीं भाजपा के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (BJP general secretary Kailash Vijayvargiya ) को भी जाता है। पश्चिम बंगाल फतह करने वाले विजयवर्गीय अब भाजपा के आँखों के तारे बन चुके हैं और अब वे जल्द ही भाजपा के नए अध्यक्ष (New BJP President) बनने वाले हैं! पिछले काफी समय से उनके नाम पर बीजेपी में चर्चा की जा रही थी।

नहीं होगी निर्भया के दोषियों की फांसी ?

इंदौर में भारतीय जनता पार्टी से अपने राजनितिक करियर की शुरुआत करने वाले विजयवर्गीय इंदौर नगर के महापौर भी रह चुके। वे लगातार छ: बार विधानसभा चुनाव जीते हैं और बीजेपी के महासचिव बनने से पहले मध्य प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं, लेकिन अब बीजेपी उन्हें बड़ा भार देने वाली है (New BJP President)। 2014 में हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए विजयवर्गीय बीजेपी को  चुनाव प्रभारी नियुक्त किया गया था,  जिसके बाद बीजेपी ने पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई थी, इसके बाद बंगाल विजय से पार्टी में उनका कद और बढ़ गया है।

राष्ट्रपति की मंजूरी के बाद कानून बना नागरिकता संशोधन विधेयक

शिवराज सिंह चौहान भी  रेस में शामिल

भाजपा कैलाश विजयवर्गीय (BJP Kailash Vijayvargiya ) को पूरी बीजेपी की नहीं बल्कि मध्यप्रदेश भाजपा की जिम्मेदारी सौंपने पर विचार कर रही है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बनने की दौड़ में कैलाश विजयवर्गीय के साथ राकेश सिंह, भूपेंद्र  सिंह, नरोत्तम मिश्रा, पूर्व सीएम शिवराज सिंह (Former CM Shivraj Singh ) के नाम सामने आ रहे हैं । यह भी  कहा जा रहा है कि बीजेपी शिवराज सिंह चौहान को प्रदेश भाजपा की कमान सौंपकर उन्हें केंद्रीय राजनीति से दूर रखना चाह रही है। जब शिवराज तीन पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री बने थे, तब इस बात की चर्चा तेज हो गई थी कि वे प्रधानमंत्री पद की दौड़ में शामिल  हो गए हैं। इसके बाद से ही शिवराज पीएम मोदी और अमित शाह की निगाह में आ गए थे। अब जब  वे केंद्र की राजनीति से दूर हैं तो उन्हें प्रदेश की राजनीति में बड़ा पद दिया जा सकता है।

बांग्लादेश के विदेश मंत्री ने आखिर क्यों टाल दी भारत की यात्रा

        – Ranjita Pathare 

 

Share.