बीजेपी में शामिल होने पर क्या बोले श्रीमंत

0

पिछले कई दिनों से यह दावा किया जा रहा है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Senior Congress leader Jyotiraditya Scindia) भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) में शामिल होने वाले हैं। ऐसा इसीलिए कहा जा रहा था क्योंकि लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) में सिंधिया गुना की अपनी सीट बचाने में भी सफल नहीं हो पाये थे, वहीं पिछले कुछ दिनों से कांग्रेस का रवैया  भी उनके प्रति नकारात्मक दिखाई दे रहा है। इतने दिन की चुप्पी के बाद अब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी चुप्पी तोड़ दी है।

Talwara School Principal Sex Video Viral :  प्रिंसिपल और महिला टीचर की सेक्स वीडियो कैमरे में कैद…

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने तोड़ी चुप्पी

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि उनके भाजपा में शामिल होने की बात केवल अफवाह है। वे किसी भी नेता के संपर्क में नहीं हैं। प्रदेश में लगातार कमजोर हो रही भाजपा बौखलाई हुई है, इसलिए अफवाह फैला रही है।

पहले यह कहा जा रहा था कि प्रदेश के मौजूदा राजनीतिक हालात को देखते हुए 15 साल बाद सत्ता में आई कांग्रेस गुटबाजी औऱ कबीलाई कल्चर से बाहर नहीं आ पाई है और सिंधिया इस समय खुद की सत्ता जाने के कारण हाशिए पर हैं। उनकी गुना से हुई पराजय ने व्यक्तिगत रूप से उन्हें कमजोर कर दिया है। प्रदेश में कांग्रेस सरकार के रहते चुनाव हारना सिंधिया के लिए असहनीय सदमे से कम नहीं है जबकि वे लगातार 15 साल मप्र में बीजेपी सरकार के रहते एक तरफा जीतते रहे हैं।

Indore School Bus Accident : इंदौर में फिर दर्दनाक स्कूल बस हादसा

मध्यप्रदेश कांग्रेस के नाम पर अभी भी संग्राम

लोकसभा में पार्टी की हार के बाद कमलनाथ ने मध्यप्रदेश के कांग्रेस अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद से ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष की खोज की जा रही है। ऐसा कहा जा रहा है कि कमलनाथ  इस पद पर आदिवासी कार्ड खेलकर सिंधिया को रोकने में लगे हुए हैं और अपने खास समर्थक गृहमंत्री बाला बच्चन या ओमकार मरकाम को पीसीसी चीफ बनाना चाहते हैं।

ट्रक ने टेंपो और मैजिक को मारी टक्कर, 15 से अधिक की मौत

 

 

 

Share.