website counter widget

अब सिंधिया की उठी आवाज़, अध्यक्ष पद के लिए कही बड़ी बात

0

कांग्रेस (Indian National Congress) पार्टी में कलह मचा हुआ है। पार्टी अध्यक्ष के पद से राहुल गाँधी (Rahul Gandhi) ने इस्तीफा देने के बाद से लेकर अब तक 100 से ज्यादा कांग्रेसी इस्तीफा दे चुके हैं। वहीँ कर्नाटक (Karnataka) और गोवा (Goa) में कांग्रेस के कई विधायकों ने भी इस्तीफा दे दिया, जिस पर बवाल हो रहा है। महीनों से नेतृत्वविहिन कांग्रेस के लिए अध्यक्ष चुनने की मांग की जा रही है। पहले जहां राहुल गाँधी को मानने के लिए पूरी कांग्रेस एक जुट होकर सामने आई थी, वहीँ अब सभी ने हार मान ली हैं और पार्टी के ही बड़े नेता अध्यक्ष पद चुनने की मांग उठा रहे हैं। कांग्रेस के पूर्व महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia)  ने गुरुवार को कहा कि कांग्रेस के लिए यह कठिन समय है। हमें बिना किसी देरी के पार्टी के लिए नया अध्यक्ष ढूंढना चाहिए।

लोकतंत्र को कलंकित कर रही BJP : मायावती

कांग्रेस के महासचिव पद से इस्तीफा दे चुके ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि राहुल गांधी को इस्तीफा दिए सात सप्ताह बीत चुके हैं। हमें जल्द ही एक नया अध्यक्ष चुनने की जरूरत है। सिंधिया ने अपने इस्तीफे के बाद ट्वीट किया था, “जनादेश को स्वीकार करते हुए और जवाबदेही लेते हुए मैंने एआईसीसी महासचिव के तौर पर अपना इस्तीफा राहुल गांधी को सौंप दिया है। यह जिम्मेदारी देने के लिए और हमारी पार्टी की सेवा करने का मुझे अवसर देने के लिए मैं उनका शुक्रिया अदा करता हूं। ”

बेटी बालिग है और उसको निर्णय लेने का अधिकार : विधायक

कांग्रेस अध्यक्ष पद से राहुल गांधी के इस्तीफा दिए जाने के बाद पूर्व मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को अध्यक्ष बनाए जाने की मांग उठने लगी है। भोपाल में कांग्रेस मुख्यालय के बाहर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पोस्टर लगाए। वहीं सिंधिया समर्थक प्रदेश इकाई के सचिव सुनील तिवारी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। सिंधिया समर्थक प्रदेश इकाई के सचिव सुनील तिवारी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया, जिसके बाद भी काफी बवाल हुआ। अब यदि जल्द ही पार्टी के लिए नया अध्यक्ष नहीं चुना जाता है तो कर्नाटक और गोवा जैसे ही अन्य राज्यों का भी हाल हो सकता है, जहाँ पर कांग्रेस सरकार है।   इसके साथ ही कई राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में भी मुश्किल का सामना करना पड़ सकता है।

कर्नाटक, गोवा के बाद मध्यप्रदेश सरकार गिराने की तैयारी में मोदी!

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.