JNU का योगी यौन शोषण में गिरफ्तार |

0

 

(JNU CM Yogi Delhi Police) भगवा वस्त्र को त्याग का, तपस्या का , मर्यादा का,  सत्य चरित्र का वस्त्र कहा जाता है शास्त्रों में ऐसा बताया गया है की भगवाधारी मनुष्य धर्म ,कर्म नैतिकता  हर बात में श्रेष्ठ होता है उसका जीवन एक साधु के सामान हो जाता है यही कारण  है की ऋषि, मुनि, महात्मा और योगी इन सबने भगवा रंग के वस्त्रो को धारण किया |

लेकिन जब कोई भगवा कपड़े पहन के अश्लीलता और अपराध करने लगे तो उसका क्या ? दरअसल हमेशा विवादों में रहने वाला जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU CM Yogi Delhi Police) एक बार फिर विवादों में गया है | पहले आंदोलन, मारपीट , बलवा और अब यौन शोषण |

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में भगवाधारी एक स्टूडेंट को यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. यूनिवर्सिटी की ही एक छात्रा ने राघवेंद्र मिश्रा नाम के छात्र पर ये आरोप लगाए हैं| हम आपको बता दे कि राघवेंद्र मिश्रा जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय का योगी भी कहा जाता है |

दीपिका को चुकाना पड़ा JNU जाने का खामियाजा, फिल्म हुई फ्लॉप

JNU का योगी (UP CM Aditya Nath Yogi) कैसे ?

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी का विद्यार्थी राघवेंद्र मिश्रा का लुक बिलकुल उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (JNU CM Yogi Delhi Police) की तरह है वो भगवा कपड़े भी वैसे ही पहनता है जैसे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहनते हैं. राघवेंद्र मिश्रा एक तरह से योगी आदित्यनाथ की डुप्लीकेट कॉपी बनकर रहता है  इतना ही नहीं राघवेंद्र मिश्रा जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में छात्रसंघ का चुनाव भी लड़ा था. भगवा रंग को भगवा झंडे और भगवा वस्त्र को राघवेंद्र संस्कृति की पहचान मानता हैं. इतना ही नहीं उसकी इच्छा है की वो जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में भी भगवा झंडा लहराए| 

इन्ही योगी पार्ट -2 पर जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी की ही एक छात्र द्वारा यौन उत्पीड़न का गंभीर आरोप लगाया गया जिसके बाद पुलिस द्वारा राघवेंद्र मिश्रा उर्फ़ JNU के योगी को हिरासत में लिया गया है|

एक न्यूज एजेंसी के मुताबिक, पुलिस (delhi police) ने राघवेंद्र के खिलाफ IPC की धारा 354 (महिला की मर्यादा भंग करने के लिए उस पर हमला या जबरदस्ती) और 323 (जान-बूझकर किसी को चोट पहुंचाना) के तहत केस दर्ज कर लिया|  तथा  बुधवार की शाम  आरोपी की गिरफ्तारी कर ली गई| (JNU CM Yogi Delhi Police)

 राघवेंद्र मिश्रा  तब सुर्खियों में आये जब योगी आदित्यनाथ जैसे पहनावे के  पांच महीने पहले ‘जनसत्ता को राघवेंद्र ने एक इंटरव्यू दिया था. इसमें उन्होंने योगी की तरह कपड़े पहनने के मुद्दे पर बात की थी. कहा था,

JNU हिंसा के खिलाफ अनुराग कश्यप सरकार पर जमकर बरसे, देखें Video

भगवा संस्कृति की पहचान है, इसलिए पहनता हूं. ये प्रकृति का संयोग मात्र है कि योगी जी की तरह गेटअप है. वो भी राष्ट्रहित, समाजहित के लिए अच्छा काम कर रहे हैं, मैं भी कर रहा हूं. योगी जी के छात्र जीवन में जो समस्याएं आईं, वही समस्याएं यहां पर मुझे हो रही हैं. मुझे भी प्रताड़ित किया गया. मैं हिंदुओं की बात करता हूं, तो कुछ विशेष प्रकार के लोग कहते हैं कि इस कैंपस में ये नहीं होना चाहिए |

ऐसे विचारो वाले किसी इंसान पर इतने संगीन आरोप लगना थोड़ा सा आश्चर्य ज़रूर करता हैं लेकिन पुलिस द्वारा राघवेंद्र मिश्रा याने जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी के योगी (JNU CM Yogi Delhi Police) बताये जाने वाले इस शख्स पर क़ानूनी कार्यवाही कर दी गई है |  वैसे राघवेंद्र मिश्रा पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली लड़की द्वारा विस्तृत बयान पुलिस के सामने नहीं हुए है अभी तक | लेकिन पुलिस द्वारा प्रारम्भिक आवेदन के आधार पर अपनी जाँच आरम्भ कर दी हैं |

वैसे जवाहरलाल यूनिवर्सिटी (JNU CM Yogi Delhi Police) का विवादों से पुराना नाता है | कुछ दिनों पूर्व नागरिक संशोधन कानून (CAA)को लेकर भी जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में  खूब बवाल हुआ था | इतना ही नहीं विद्यार्थियों द्वारा पुलिस पर बिना वजह लाठी चार्ज करने, JNU परिसर में बिना परमिशन घुसने के साथ-साथ कक्षाओं और लाइब्रेरी में तोड़फोड़ करने का आरोप लगाया गया था |  इतना ही नहीं जवाहरलाल नेहरू विश्विद्यालय को हिंदुत्व विरोधी भी कहा जाता है और ऐसा बताया जा रहा था की राघवेंद्र मिश्रा JNU में हिंदुत्व की आवाज़ मुखर कर रहे थे | बहरहाल जब तक इस यौन शोषण की पूरी सच्चाई सबके सामने नहीं जाएगी तब तक भगवाधारी राघवेंद्र मिश्रा उर्फ़ JNU के योगी पुलिस की गिरफ्त में रहेंगे |

Video : JNU में हमले से स्वरा के दिल में दर्द, छलके आंसू

Share.