लालू को पहुंचाया जेल, रघुवर दास का बिगाड़ा खेल

0

झारखंड में हुए विधानसभा चुनाव के परिणाम (Jharkhand assembly election results  2019) आ चुके हैं। परिणाम के आते ही झारखंड (Raghubar Das Jharkhand Elections) भी उन राज्यों में शामिल हो गया है, जिनमें बीजेपी की पकड़ कमजोर हो चुकी है।  भाजपा के हाथ  से लगातार पाँच राज्यों का चले जाना, पार्टी के लिए किसी बड़े झटके से कम नहीं है। झारखंड में बीजेपी का ऐसा सुपडा साफ हुआ कि खुद मुख्यमंत्री रघुबर दास (Former Jharkhand Chief Minister Raghubar Das)भी  अपनी सीट नहीं बचा पाये। उनका राजनीति का खेल ऐसे दिग्गज ने बिडागा है,  जो बिहार के पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव (Former Bihar CM Lalu Prasad Yadav) को जेल  पहुंचा  चुके हैं ।

Jharkhand Election Results: झारखंड चुनाव में बीजेपी की हार

सरयू ने किया दास का सफाया

औद्योगिक नगरी जमशेदपुर पूर्व सीट से सरयू राय मुख्यमंत्री रघुवर दास (Raghubar Das Jharkhand Elections) को हार का सामना करना पड़ा, लेकिन आबादी बात यह  है कि उन्हें  उस व्यक्ति ने मात दी, जो कभी उन्हीं की कैबिनेट के मंत्री रह चुके हैं  और आज बागी बन  गए हैं।  उन्होंने निर्दलीय ही मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ मुजफ्फरपुर पूर्व से पर्चा भर दिया था ,  जिसका उन्हें  परिणाम भी मिल गया। साल 1995 से लगातार रघुवर दास जमशेदपुर पूर्व से चुनाव लड़ते आ रहे हैं और लगातार जीत भी  रहे हैं , लेकिन  इस बार सब ऐसा न हो पाया।  सरयू राय ने बीजेपी से जमशेदपुर पश्चिम से विधानसभा का टिकट मांगा था जो उन्हें नहीं मिला जिसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्री के खिलाफ ही चुनावी मैदान में उतरने के लिए उन्होने बगावत कर दी।

Jharkhand Election Result 2019 Live : किसे मिलेगी झारखंड की सत्ता ?

 सरयू राय का दावा

अपनी मनपसंद सीट नहीं मिलने के बाद सरयू राय (Sarayu Rai) ने भाजपा को अलवीदा कह  दिया था।  (Raghubar Das Jharkhand Elections) उस समय उन्होने दावा किया था कि वो महज 8 साल की उम्र में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) से जुड़ गए थे, जिसके बाद उन्हें साल 1974 में संघ ने भारतीय युवा मोर्चा में भेजा था। सरयू राय ने ही बिहार में बड़े स्तर पर हुए चारा घोटाले का पर्दाफाश किया था और लालू प्रसाद यादव को जेल पाहुचाया था। इस मामले में  लालू प्रसाद यादाव आज भी  रांची की जेल में सजा काट रहे हैं। इतना ही नहीं मधु कोड़ा की सरकार में 4 हजार करोड़ के माइनिंग घोटाले का पर्दाफाश भी सरयू राय ने ही किया था।

Assembly Elections 2019 : इन राज्यों में चुनाव की तारीखों का ऐलान

         – Ranjita Pathare 

 

Share.