No Article 370 Reaction : कश्मीर के भारत में शामिल होने पर अफसोस!

0

मोदी सरकार ने कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटा दिया है। अब राज्य को विशेष राज्य का दर्ज नहीं दिया जाएगा। जम्मू-कश्मीर भी अब केंद्र शासित प्रदेशों की सूची मे आ गया है। जैसे ही मोदी सरकार का यह फैसला आया वैसे ही कश्मीर के सत्ताधारियों के विरोध के सूर सुनाई देने लगे। सभी इस फैसले का विरोध कर रहे हैं। जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ़्ती (No Article 370 Mehbooba Mufti Reaction) भी आग बबूला हो रही है। पहले ही उन्हें नजरबंद किए जाने के बाद हंगामा मचा था और अब आर्टिकल 370 पर फैसले के बाद फिर हंगामा मचा हुआ है। मोदी सरकार के इस फैसले का कई पार्टियों ने भी समर्थन किया है।

जानिए जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने से अब क्या बदला

महबूबा मुफ़्ती ने किया विरोध (No Article 370 Mehbooba Mufti Reaction)

महबूबा मुफ़्ती मे एक ऑडिओ (No Article 370 Mehbooba Mufti Reaction ) संदेश जारी किया। उन्होने कहा कि कश्मीर को भारत में मिलाना हमारी सबसे बड़ी भूल थी। उन्होने कहा की आज सबसे काला दिन है। आज हिंदुस्तान की पार्लियामेंट ने जम्मू-कश्मीर के लोगों से सब कुछ छीन लिया जो उन्हें इसी पार्लियामेंट ने दिया था। कई दिनों से यहाँ सिक्योरिटी फोरसेस की तादात यह कहकर बढ़ाई जा रही थी कि अमरनाथ यात्रियों पर पाकिस्तान की ओर से आतंकी हमला होने की संभावना है। इतना बड़ा मुल्क एक छोटे से मुस्लिम मेजियोरिटी राज्य से डर गया। कश्मीर को एक खुली जेल बना दिया गया। आज जम्मू-कश्मीर के लोग ये सोचने के लिए मजबूर हैं कि हमारे लीडर्स ने पाकिस्तान को रिजेक्ट करके हिंदुस्तान के साथ जुडने का जो फैसला किया था वो शायद सही नहीं था।

चौथे युद्ध को तैयार भारत और पाकिस्तान

No Article 370 Mehbooba Mufti Reaction Audio : 

इसके पहले भी महबूबा मुफ़्ती (No Article 370 Mehbooba Mufti Reaction) ने कई ट्वीट किए। उन्होने ट्वीट मे लिखा, “केंद्र सरकार के इस फैसले का उपमहाद्वीप में भयावह परिणाम होंगे। भारत सरकार के इरादे स्पष्ट हैं। वे जम्मू-कश्मीर के लोगों को आतंकित इस क्षेत्र पर अधिकार चाहते हैं। कश्मीर पर भारत अपने वादों को निभाने में विफल हो चुका है। आज भारतीय लोकतंत्र में सबसे काला दिन है। भारत सरकार की अनुच्छेद 370 को रद्द करने का एकतरफा निर्णय गैरकानूनी और असंवैधानिक है। इससे जम्मू-कश्मीर में भारत संचालन बल बन जाएगा।”

Jammu Kashmir Crisis LIVE Updates : मुफ़्ती की चेतावनी

Share.