website counter widget

जानिए, पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड मसूद अजहर की मौत की सच्चाई

0

जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के पुलवामा (Pulwama) में हुए आतंकी हमले के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले का मास्टरमाइंट आतंकी मौलाना मसूद अजहर (Masood Azhar) को माना जा रहा था। इसके बाद भारत की ओर से एयर स्ट्राइक (2019 Balakot airstrike) की गई और कई आतंकी ढेर होने का दावा किया गया। अब ऐसा ही एक और दावा किया जा रहा है। इटली की पत्रकार फ्रांसिस्का मरीनो ( Francesca Mariano ) ने दावा किया है कि पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड मसूद अजहर मारा गया है।

दो बच्‍चों से अधिक हों तो दे दो फांसी, समरसता में बाधक ओवैसी

पाकिस्तान ने मसूद अजहर को मारा

फ्रांसिस्का ( Francesca Mariano ) मरीनो ने बताया है कि 23 जून को रावलपिंडी के एमिरेट्स आर्मी अस्पताल में सिलेंडर ब्लास्ट हुआ था, जिसमें जैश ए मोहम्मद के चीफ और जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले का मास्टरमाइंड मौलाना मसूद अजहर की मौत हो गई। इसके साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि पाकिस्तान ने ही मसूद अजहर को मरवाया है। फ्रांसिस्का मरीनो रोम की इसी पत्रकार ने दो महीने पहले भारतीय वायुसेना की ओर से पाकिस्तान के बालाकोट में जैश के 130-170 आतंकियों के मारे जाने का दावा किया था।

इंदिरा जयसिंह के कार्यालयों पर सीबीआई का छापा

मरीनो ने दावा किया है कि मौलाना मसूद अजहर का पाकिस्तान आर्मी के रावलपिंडी स्थित अस्पताल में इलाज चल रहा था। किडनी फेल होने के कारण मसूद अजहर को भर्ती किया गया था। उनका कहना है कि 23 जून को रावलपिंडी अस्पताल में देर रात ब्लास्ट हुआ था, जिसमें 10 लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। जिसे कवर करने मीडिया वालों को मना कर दिया गया। मौलाना मसूद अजहर की इस ब्लास्ट में मौत हो गई। मरीनो ने अपनी रिपोर्ट में आगे लिखा है कि यूके के एंटी टेरेरिस्ट थिंक टैंक के फरान जाफरी ने ट्वीट किया और बताया कि यह ब्लास्ट अस्पताल प्रशासन के मैकेनिकल फेलियर की वजह से हुआ और मसूद अजहर को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किया गया। इसके बाद वहां के स्थानीय समाचार वेबसाइट द बलूचवरना ने ट्विटर और आर्टिकल के जरिए बताया कि मसूद अजहर की मौत हो गई।

आकाश विजयवर्गीय के बाद एक और विधायक पर गाज


वहीँ अल्ताफ हुसैन की पार्टी एमक्युएम के नेता नदीम अहसन ने भी एक ट्वीट में आर्मी अस्पताल के धमाके में मौलाना मसूद अजहर के मारे जाने की चर्चा करते हुए करांची के महमूदाबाद मस्जिद को चुनौती दी थी कि वो इस बात का खंडन करे या पुष्टि करे कि मस्जिद में मसूद अजहर के जनाजे की नमाज पढ़ी गई है या नहीं। फिलहाल अभी तक इस बात की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है कि पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड मारा गया है या नहीं।

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.