Chandrayaan 2 की अब इस तारीख को होगी लॉन्चिंग

0

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के दूसरे मून मिशन Chandrayaan-2 की लॉन्चिंग की नई ताऱीख का आखिरकार ऐलान कर ही दिया। अब चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग 22 जुलाई को दोपहर 2 बजकर 43 मिनट पर होगी। भारत का दूसरा चंद्रमा मिशन 15 जुलाई को जीएसएलवी-एमके-3 के क्रायोजेनिक इंजन की हीलियम बॉटल में लीक के कारण रोकना पड़ा था। एन वक्त पर रुकी लॉन्चिंग के बाद कई सवाल उठे थे। यान के प्रक्षेपण से केवल 56 मिनट पहले इसे रोकना पड़ा। यदि सबकुछ ठीक रहता तो यान अपने निर्धारित समय 2.51 मिनट पर प्रक्षेपित किया जाता।

मायावती के भाई की 400 करोड़ की बेनामी संपत्ति जब्त

इस बारे में एक वरिष्ठ वैज्ञानिक ने कहा था कि इंजन में लिक्विड ऑक्सीजन (ऑक्सीडाइजर) और लिक्विड हाइड्रोजन (ईंधन) भरने के बाद हीलियम को भरने का काम हो रहा था। प्रक्रिया 350 बार तक हीलियम की बोतल पर दवाब डालने की थी और आउटपुट को 50 बार पर सेट करना था। हीलियम भरने के बाद हमने पाया कि दबाव तेजी से कम हो रहा था। जिससे लीक का संकेत मिला। टीम ने गैस बॉटल में हुए असल लीक के स्थान का पता लगाया और उसकी खामी को दूर किया। श्रीहरिकोटा में सोमवार तड़के देशभर के 5,000 लोग पहली बार रॉकेट लॉन्च को अपनी आंखों से देखने के लिए इकट्ठा हुए थे। उन्होंने इस तरह की निराशा की उम्मीद तक नहीं की थी। मिशन कंट्रोल सेंटर की वीआईपी गैलरी में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी मौजूद थे।

कुलभूषण : अब पाकिस्तान उठा सकता है यह कदम, दिए संकेत

लॉन्चिंग की नई तिथि के बारे में बुधवार को एक अधिकारी ने बताया था कि रॉकेट के लांच के लिए कई तारीखों पर विचार किया जा रहा है। लांच की तिथि 20 से 23 जुलाई के बीच रखी जा सकती है। रॉकेट को भारत के दूसरे चंद्रमा मिशन चंद्रयान-2 के साथ सोमवार तड़के 2:51 बजे उड़ान भरनी थी , लेकिन अधिकारियों को इस लांचिंग के एक घंटा पहले एक खामी का पता चला जिसके बाद इसे स्थगित कर दिया गया। 978 करोड़ रुपये के चंद्रयान मिशन में जीएसएलवी-एमके 3 लॉन्च व्हीकल का इस्तेमाल किया गया है। जिसमें थ्री-स्टेज क्रायोजेनिक तकनीक से लैस सीई-20 इंजन लगा हुआ है।

Video : आकाश विजयवर्गीय की माफ़ी, बीजेपी की नौटंकी!

Share.