website counter widget

100 भारतीयों के खिलाफ इंटरपोल ने जारी किया ब्लू कॉर्नर नोटिस

0

इंटरपोल (Interpol) ने 100 भारतीयों के खिलाफ ब्लू कॉर्नर नोटिस ( Blue Corner Notice Against 100 Indians  ) जारी किया है। इतने भारतीयों के नाम एक साथ नोटिस आने के बाद हड़कंप मच गया है। केरल (Kerala) के मुनंबम बंदरगाह से पांच महीने पहले कई लोग रवाना हुये थे, जिनके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल रही है। जांच के बाद यह सामने आया है कि महिलाओं, बच्‍चों और पुरुषों को तस्‍करी के जरिए विदेश भेजा गया है। केरल पुलिस (Kerala Police) ने बताया कि केरल बंदरगाह से रवाना होने के बाद से लापता हुए 120 लोगों के खिलाफ ब्लू कॉर्नर नोटिस का अनुरोध किया गया था। इंटरपोल ने लापता लोगों में से 100 के लिए ब्लू कॉर्नर नोटिस जारी किए हैं।

यहां के लोगों ने स्वयं पर टैक्स लगाए जाने की मांग की


जानकरी के अनुसार, इंटरपोल (Blue Corner Notice Against 100 Indians ) आपराधिक मामलों में कथित रूप से शामिल व्यक्तियों पर नज़र रखने और दूसरे देशों में संदिग्ध का पता लगाने में मदद करता है, इसीलिए केरल सरकार ने भी इंटरपोल से मदद मांगी थी। केरल से रवाना होने के 5 महीने बाद भी 243 लोगों से भरी नौका का कोई पता नहीं चल रहा है। इस नौका में श्रीलंका के तमिल भी थे जो बेहतर जीवन के लिए विदेश जाना चाहते थे। इनके लिए यह भी आशंका जताई जा रही है कि नौका समुद्र में डूब गई होंगी।

पाकिस्तानी जनता को इमरान ने दिया 30 जून तक का समय

लापता (Blue Corner Notice Against 100 Indians ) हुए लोगों में से एक के परिवार वालों ने दावा किया है कि उनके पास फोन आया था, जिसमें उनके बेटे ने बताया था कि वह अल्जीरिया से कॉल कर रहा है। अल्जीरिया और ऑस्ट्रेलिया की सरकारों ने पुष्टि की है कि उन लोगों को ले जाने वाली नाव वहां नहीं पहुंची है। केरल ने सूत्रों से उपलब्ध सूचनाओं के आधार पर लापता व्यक्तियों के अल्जीरिया या ऑस्ट्रेलिया जाने की संभावना से भी इनकार किया है। मुख्‍य जांच अधिकारी एएसपी एमजे सोजन ने कहा, “लोगों ने 12 जनवरी एक आदमी की यात्रा के लिए तीन लाख रुपये दिया था। हम नहीं जानते हैं कि वे लोग कहां गए हैं। हमने 10 लोगों को अरेस्‍ट किया है। नाव में सवार कई श्रीलंका के तमिल अशिक्षित, बेरोजगार थे और दिल्‍ली में इधर, उधर काम करते थे।”

कंप्यूटर बाबा पर मेहरबान कमलनाथ सरकार

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.