website counter widget

भारत और चीन के सैनिकों में हुई झड़प: लद्दाख बॉर्डर

0

आजकल पकिस्तान से तनाव काफी अधिक बढ़ गया है। इसी बीच पकिस्तान का ख़ास माना जाने वाला चीन और भारत के सैनिको में बुधवार को लद्दाख सीमा पर झड़प हुई यह संघर्ष शाम तक चला। जानकारी के अनुसार भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच काफी देर तक धक्का-मुक्की होती रही (Indian And Chinese Soldiers War)। यह घटना 134 किलोमीटर लंबी पैंगोंग झील के उत्तरी किनारे पर हुई, जिसके एक तिहाई हिस्से पर चीन का नियंत्रण है। हालांकि दोनों पक्षों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर पर बातचीत के बाद स्थिति सामान्य हो गई है।

चंद्रयान 2 : फिर भेजा जाएगा विक्रम लैंडर…!

एक जानकारी के मुताबिक ‘भारतीय सैनिक पट्रोलिंग पर थे और इसी दौरान उनका आमना-सामना चीन के पीपल्स लिब्रेशन आर्मी के सैनिकों के साथ हो गया (Indian And Chinese Soldiers War)। चीनी सैनिकों ने इलाके में भारतीय सैनिकों की मौजूदगी का विरोध किया इसके बाद दोनों ओर के सैनिकों में धक्का-मुक्की होने लगी। दोनों पक्षों ने इलाके में अपने सैनिकों की संख्या बढ़ा दी, देर शाम तक यह संघर्ष जारी था।


सूत्रों के अनुसार तनाव को कम करने के लिए स्थापित द्विपक्षीय व्यवस्था के तहत दोनों पक्ष ब्रिगेडियर स्तर के अधिकारियों के बीच बातचीत को सहमत हैं। एक अधिकारी ने कहा, ‘लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) की स्थिति को लेकर दोनों पक्षों की भिन्न मान्यताओं की वजह से इस तरह की घटनाएं अक्सर होती हैं। इनका बॉर्डर पर्सनल मीटिंग या फ्लैग मीटिंग आदि से समाधान कर लिया जाता है।

कांग्रेस पार्टी चली RSS की राह


इससे पूर्व दो साल पहले साल 2017 में भारत और चीन के बीच डोकलाम में बड़ा विवाद हुआ था. दोनों देशों की सेना 73 दिनों तक यहां आमने-सामने रही थी. राजनयिक बातचीत के बाद ये गतिरोध खत्म हुआ था. दरअसल डोकलाम में चीनी सेना ने सड़क का निर्माण शुरू कर दिया था. भूटान की तरफ मदद का हाथ बढ़ाते हुए भारतीय सेना डोकलाम तक पहुंच गई और उसने सड़क का निर्माण कार्य रोक दिया था.

बंगाल में लागू नहीं होगा नया ट्रैफिक नियम

-मृदुल त्रिपाठी

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.