क्यों नौकरी छोड़ रहे हैं सेना के अफसर ?

0

भारत (India) की सीमा पर देश की रक्षा कर रहे सेना के जवान शायद अपने काम से संतुष्ट नहीं है! सेना में पहले ही जवानों की कमी है और ऊपर से हर साल कई अफसरों ( Army Officer ) का सेना से सेवामुक्त होने का सिलसिला भी लगातार जारी है। तीनो सेना, अफसरों की कमी के कारण जूझ रही है। पिछले तीन साल में तीनों भारतीय सेनाओं से 2100 अफसर अपनी मर्जी से इस्तीफा दे चुके हैं। ये आंकड़े यही थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। हर साल के आंकड़े बढ़ते जाते हैं।

HSSPP Recruitment 2019 : असिस्टेंट ब्लॉक रिसोर्स कोर्डिनेटर बनने का मौका

सेना में अफसरों की कमी के बारे में राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में रक्षा राज्य मंत्री श्रीपद नाइक (Shripad Naik)  ने कहा कि यह सही है कि 2016 से 2018 के बीच भारत की तीनों सेनाओं से कुल 2100 अधिकारियों ने स्वेच्छा से नौकरी छोड़ी है। वहीं, तीनों सेनाओं में कुल 78,291 पद खाली हैं। जिसमें से 9427 पद अफसरों के हैं। राज्य मंत्री श्रीपद नाइक ने आगे बताया कि तीनों सेनाओं में भर्ती प्रक्रिया सामान्य और सुचारू तरीके से चल रही है। केंद्र सरकार की ओर से सेना में अफसरों की कमी को पूरा करने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं। इसके लिए हम युवाओं को जागरूक कर रहे हैं। हम रक्षा प्रदर्शनी लगाते हैं, पब्लिसिटी कैंपेन चलाते हैं साथ ही अन्य मीडिया माध्यमों से प्रचार प्रसार भी करते हैं।

AIIMS Jodhpur Recruitment 2019 : कई पदों पर भर्तियां

पदोन्नति की प्रक्रिया में सुधार

रक्षा राज्य मंत्री श्रीपद नाइक (Shripad Naik) ने आगे बताया कि फिलहाल तीनों सेनाओं की पदोन्नति की प्रक्रिया को भी सुधार रहे हैं। इससे तीनों सेनाओं में रोजगार के मौके खुलेंगे। यह भी कोशिश की जा रही है कि अफसरों को सेना में रोकने के लिए भी योजनाओं का निर्माण करें। जल्द ही यह काम भी कर लिया जाएगा।

तीनों सेनाओं में ऑफिसर रैंक (PBOR) के कई पद खाली हैं। थल सेना में PBOR के लिए 12,23,381 पद हैं, इनमें से अभी 11,85,146 पदों पर जवान हैं। यानी 38,325 पर रिक्त हैं। वहीं, नौसेना में PBOR के लिए 74,046 पद तय हैं, जिसमें से 57,240 ही भरे हुए हैं। यानी 16,806 पद खाली हैं। भारतीय वायुसेना में PBOR के लिए 1,42,917 पद हैं. इनमें से 1,29,094 पद भरे हुए हैं।

Government of Delhi Recruitment 2019 : सरकार दे रही 40,000 रुपये पाने का मौक़ा

साल 2018 में आर्मी के 412, नेवी के 102 और एयरफोर्स के 184 अफसरों ने नौकरी छोड़ी थी। वहीँ साल 2017 में आर्मी के 383, नेवी के 137 और एयरफोर्स के 205 तथा साल 2016 में आर्मी के 353, नेवी के 138 और एयरफोर्स के 186 अफसरों ने नौकरी छोड़ी थी। इस साल भी इन आंकड़ों में वृद्धि हो रही है।

Share.