चीनी सेना एक बार फिर भारतीय सीमा में दाखिल!

0

अरुणाचल प्रदेश से बीजेपी के सांसद तापिर गाओ ने दावा किया है चीनी सेना ने फिर से राज्‍य में घुसपैठ की है। इस सांसद के अनुसार चीनी सेना ने भारतीय सीमा के 100 किलोमीटर अंदर तक घुसपैठ करने को अंजाम दिया है। चीन, अरुणाचल प्रदेश को अपना हिस्‍सा मानता है। उसकी सेनाएं कई बार यहां घुसपैठ कर चुकी है।

कल से दिल्ली एयरपोर्ट पर होने जा रहा बड़ा बदलाव


सांसद तापिर गाओ का ने बताया है. कि चीनी सेना लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) से करीब 100 किमी अंदर तक भारतीय सीमा में दाखिल हुई और उसने यहां पर लकड़ी के एक पुल का निर्माण तक कर डाला है। यह मामला अंजवा जिले के चागलगम इलाके का है। यह एक नो मैन्स लैंड है जो आबादी से करीब 25 किमी दूर है। गाओ के मुताबिक पार्टी के कार्यकर्ताओं ने उन्हें वीडियो भेजा था जिससे पता चला कि चीन किस तरह से एक तरफ भारत के साथ बेहतर संबंध की वकालत करता है तो दूसरी तरफ पीठ में छूरा भोंक रहा है।

हालांकि केंद्र सरकार की ओर से अभी इस कोई पुष्टि नहीं की गई है । एक चैनल के साथ बातचीत में बीजेपी सांसद ने चीनी सेना के घुसपैठ का दावा किया है। ईस्‍ट अरुणाचल से बीजेपी सांसद तापिर गाओ ने कहा है कि करीब एक महीने पहले चीन की तरफ से भारतीय सीमा में पुल का निर्माण किया गया था। उन्होंने कहा कि चीन पिछले कई वर्षों से इस तरह की करतूत करता आ रहा है। सांसद गाओ के अनुसार चीनी सेना अरुणाचल में कई जगहों पर घुसपैठ करने की कोशिश करता है।

हजारों के चालान ने कर दी लोगों की नींद हराम


उन्‍होंने यह भी कहा कि पिछले वर्ष अक्टूबर के महीने में इसी इलाके में सेना की पेट्रोलिंग यूनिट की चीनी सैनिकों से झड़प हुई थी।
तापिर ने कहा कि निश्चित तौर पर वह चीन के हालिया घुसपैठ और पुल निर्माण के मुद्दे को उठाएंगे। इस विषय पर अरुणाचल सरकार की अपनी सीमा है. यह दो देश के बीच का मामला है। और इस पर कार्यवाई का फैसला भारत सरकार का निर्णय होगा।

Narendra Modi In Russia : भारत और रूस की दोस्ती हुई और मजबूत

-मृदुल त्रिपाठी

Share.