website counter widget

नकली नोट की रोकथाम के लिए केंद्र सरकार सख्त

0

नई दिल्ली: अभी नोटबंदी को पूरे 3 साल भी नहीं हुए है लेकिन बाजार में नकली नोट आ गए है। और बीच में नकली नोट बनाने वाले कई गिरोहों का खुलासा भी हो चुका है। लेकिन अब मोदी सरकार नकली नोटो पर रोकथाम लगाने के लिए फुल एक्शन में आ गई है।

नकली नोटों की रोकथाम के लिए एक मुख्य बैठक हो रही है। जो सबऑर्डिनेट लेजिस्लेशन समिति राज्यसभा के चेयरमैन ले रहे है. जानकारी के अनुसार इस बैठक में RBI के डिप्टी गवर्नर बीपी कानूनगो, वित्तीय सेवा सचिव राजीव कुमार, पीएनबी (Punjab National Bank), ओबीसी Oriental Bank of Commerce), इलाहाबाद बैंक (Allahabad Bank) के एमडी मौजूद है. नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी यानी एनआईए (National Investigation Agency) ने कहा है कि भारत में बिल्कुल असली नोट की तरह जाली नोट फिर से आ गए हैं. NIA के अनुसार जाली नोटों का मुख्य स्रोत पाकिस्तान है.

जानकारी के अनुसार पाकिस्तान भारतीय बाजार में 500 और 2000 रुपए के नकली नोट सप्लाई कर रहा है. ये नोट बिलकुल असली दिखने वाले नोट की तरह होते है . दिवाली से पहले भारतीय बाजारों में नकली नोटों की तादात कई गुना बढ़ गई है. जानकारी के अनुसार रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट में बताया है कि बाजार में सबसे ज्‍यादा 500 रुपए के नकली नोट चल रहे हैं. वहीं 2000 रुपए के जाली नोटों में 21.9 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है.

-Mradul tripathi

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.