गुर्जर आंदोलन : एनएच-21 को जाम करने की चेतावनी

0

राजस्थान राज्य में एक बार फिर गुर्जर समाज पांच फीसदी आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलन करने उतर आये हैं। कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के नेतृत्व में आंदोलनकारियों ने सवाई माधोपुर के मलारना डूंगर में दिल्ली-मुंबई रेलवे ट्रैक अपना डेरा जमा लिया है। उन्होंने इस ट्रैक पर अपना आंदोलन शुरू कर दिया है। इस आंदोलन की वजह से कई ट्रेनों के परिचालन बाधित हुए हैं। गुर्जरों ने अपने इस आंदोलन को तेज कर दिया है। आंदोलनकारियों का कहना है कि, 11 फरवरी को राष्ट्रीय राजमार्ग 21 पर सिकंदरा में जाम लगाया जाएगा।

गुर्जर समाज के लोग अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर उतर आए हैं। कल यानी 10 फ़रवरी के दिन गुर्जर समुदाय ने बूंदी जिले में नेशनल हाईवे-148-डी पर आंदोलन कर जाम लगाने की चेतावनी सरकार को दी है। गुर्जर समाज के पंच पटेलों की बैठक शनिवार को सिकंदरा में आयोजित हुई। इस बैठक का नेतृत्व राजस्थान गुर्जर महासभा के प्रदेश अध्यक्ष मनफूल सिंह तुंगड ने किया। इस बैठक में आरक्षण आंदोलन को विस्तार देने और इसे तेज करने को लेकर गुर्जर समाज के नेताओं ने चर्चा की। बैठक में निर्णय लिया गया है कि ठीक दो दिनों के बाद, यानी 11 फ़रवरी को नेशनल हाईवे नंबर-21 पर सिकंदरा में जाम लगाया जाएगा।

दौसा पुलिस-प्रशासन गुर्जर आरक्षण आंदोलन को देखते हुए बेहद ही सतर्क हो गया है। जिले में शनिवार से ही धारा 144 लागू कर दी गई है। बूंदी जिले में भी गुर्जर समाज ने बैठक की, जिसमें रविवार से नेशनल हाईवे-148-डी पर आंदोलन कर जाम लगाने की चेतावनी दी गई है। गुर्जर समुदाय ने सरकार को चेतावनी दी है कि आरक्षण की मांग को लेकर, रविवार को सुबह 11 बजे से राष्ट्रीय राजमार्ग-148-डी पर टोपा गांव के पास अनिश्चितकालिन जाम लगाया जाएगा। आंदोलन के उग्र होने की सम्भावना के चलते प्रशासन ने नैंनवा क्षेत्र में पांच चैक पोस्ट बनाए हैं। प्रशासन गुर्जर नेताओं पर पैनी नजर रखे हुए है।

(प्रभात)

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News
Share.