बड़ा सिर बना जी का जंजाल :नए मोटर व्‍हीकल एक्‍ट

0

1 सितम्बर से लागू हुए नए मोटर व्हीकल एक्ट(New Motor Vehicle Act)ने वाहन मालिकों के नाक में दम कर रखा है। जिधर देखो उधर से आये दिन चालान की भारी भरकम रकम वसूल करने की खबरें आती है। कई मामलों में तो आजकल स्थिति ऐसी हो जाती है की चालान की रकम वाहन की कीमत से अधिक हो जाती है। लेकिन इस बार मामला कुछ ऐसा है. जिसमे पुलिस भी कंफ्यूज हो गई की चालान काटा जाए या छोड़ दिया जाये जानकारी के अनुसार गुजरात (Gujarat) में ट्रैफिक पुलिस के सामने सोमवार को एक विचित्र मामला सामने आया. एक शख्‍स बिना हैलमेट के गाड़ी चलाते हुए पकड़ा गया.

दिल्ली में फिर निर्भयाकांड, पार्क घूमने गई युवती से गैंगरेप

लेकिन जब उसने अपनी मजबूरी बताई तो पुलिस ने उलझन में पड़ गई कि उसका चालान काटा जाए या छोड़ा जाए.
ये मामला गुजरात के छोटा उदेपुर जिले के बोडेली कस्‍बे का है. सोमवार को ज़ाकिर मेमन नाम के शख्‍स को पुलिस ने बिना हैलमेट गाड़ी चलाते हुए पकड़ा. उसके पास गाड़ी से संबंधित सभी कागजात थे, लेकिन उसने हैलमेट नहीं पहना था. पुलिस ने उससे जुर्माना भरने को कहा, लेकिन ज़ाकिर ने जब अपनी समस्‍या उन्‍हें बताई तो उनकी उलझन बढ़ गई. ज़ाकिर ने बताया कि वह कोई भी हैलमेट पहन नहीं सकता, क्‍योंकि कोई भी हैलमेट उसके सिर में आता ही नहीं है.

पीएम मोदी के जन्मदिन पर क्यों आग बबूला हुए शाह? देखें Video

ज़ाकिर मेमन ने पुलिस को बताया कि उसने शहर की सभी दुकानों पर जाकर देखा, लेकिन उसके सिर में आ जाए ऐसा कोई भी हैलमेट उसे नहीं मिला. ज़ाकिर का कहना है कि मैं कानून का सम्मान करने वाला शख्‍स हूं. मैं भी हैलमेट पहनना चाहता हूं, लेकिन मुझे ऐसा हैलमेट मिलता ही नहीं, जो मेरे सिर में फिट आ सके.
ज़ाकिर का कहना है, ‘मैं सारे कागजात अपने साथ रखता हूं, लेकिन हैलमेट का क्‍या करूं. मैंने इस बारे में पुलिस को भी बताया है. ज़ाकिर की कस्‍बे में फलों की दुकान है. उनका परिवार अब उनकी इस समस्‍या को लेकर चिंतित है. वह कहते हैं कि ऐेसे वह कब तक जुर्माना भरेंगे.’
बोडेली के ट्रैफिक ब्रांच में सब इंस्‍पेक्‍टर वसंत राठवा का कहना है, ये एक अनोखी समस्‍या है. ज़ाकिर की समस्‍या को देखते हुए हम उनका चालान नहीं काटते हैं. वह कानून का सम्‍मान वाले शख्‍स हैं. उनके पास सभी वैध कागजात हैं, लेकिन हैलमेट की समस्‍या उनके साथ कुछ अनोखी है.

भारत और पाकिस्तान के बीच डोनाल्ड ट्रंप बने रैफरी!

 

-Mradul tripathi

Share.