website counter widget

वित्तमंत्री का ऐलान, रोजमर्रा की ये चीजें हुई सस्ती!

0

GST काउंसिल (GST Council Meeting 37th Meeting) की 37वीं बैठक वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में संपन्न हुई जिसमे कई बड़े फैसले लिए गए है. इस बैठक में कई चीजों से टैक्स (Tax Rebate) का बोझ कम किया गया है. वहीं कुछ चीजों पर टैक्स बढ़ाया भी गया है. ऐसा माना जा रहा है की 1 अक्टूबर से बहुत से प्रोडक्ट्स महंगे हो जाएंगे लेकिन रोजमर्रा की चीजें सस्ती होगी। मतलब साफ़ है की आम आदमी को रोजमर्रा की चीजें सस्ती होने से काफी राहत मिलेगी।

‘विक्रम’ अँधेरे में हुआ गुम फिर भी चंद्रयान-2 से आई अच्छी खबर

सबसे बड़ी राहत होटल इंडस्ट्री को मिली है. अब 1000 रुपये तक किराए वाले पर टैक्स नहीं लगेगा. वहीं इसके बाद 7500 रुपये तक टैरिफ वाले रूम के किराए पर अब सिर्फ 12 फीसदी जीएसटी देना होगा. जानकारी के अनुसार वर्तमान समय में 7500 रुपये तक टैरिफ वाले होटल रूम पर 18 फीसदी की दर से जीएसटी लगता है.
सूखी इमली पर GST दर जीरो हो गई है. इससे पहले इस पर 5 फीसदी GST लगता था. स्लाइड फास्टनर्स (जिप) पर जीएसटी को 18 से घटाकर 12 फीसदी कर दिया है. इसके अलावा समुद्री नौकाओं का ईंधन, ग्राइंडर, हीरा, रूबी, पन्ना या नीलम को छोड़कर अन्य रत्नों पर टैक्‍स की दर घटा दी है. भारत में नहीं बनने वाले कुछ विशेष किस्म के रक्षा उत्पादों को भी जीएसटी से छूट दी गई है.

अब आपको आईसक्रीम खिलाएगा सांची

महँगे होने वाले प्रोडक्ट्स में कैफीन प्रोडक्ट्स है जिसमे जीएसटी की वर्तमान 18 फीसदी की दर की जगह 28 फीसदी की दर से टैक्‍स और 12 फीसदी का अतिरिक्त सेस लगाया गया है.इसके अलावा रेल गाड़ी के सवारी डिब्बे और वैगन पर GST की दर को 5 फीसदी से बढ़ाकर 12 फीसदी किया गया है.

सरकार ने मांगी किसानों की मांग, जानिए क्या थी मांगे

-Mradul tripathi

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.