जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन लागू 

0

जम्मू-कश्मीर में कल भाजपा और पीडीपी का गठबंधन टूटने के बाद लगातार आठवीं बार राज्यपाल शासन लागू हो गया है| आज सुबह ही राष्ट्रपति ने जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन लागू होने के प्रस्ताव पर हस्ताक्षर किए हैं| इसके तुरंत बाद जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन तत्काल प्रभाव से लागू हो गया|

गौरतलब है कि भाजपा ने कल जम्मू-कश्मीर में पीडीपी के साथ गठबंधन से खुद को अलग किया और राज्यपाल को पत्र लिखा| इसके बाद राज्यपाल ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर राज्यपाल शासन लगाने की अनुशंसा की|  इस पर राष्ट्रपति ने आज सुबह हस्ताक्षर कर दिए| जम्मू-कश्मीर के इतिहास में आठवीं बार राज्यपाल शासन लगा है|  यहां सबसे पहले मार्च 1977 में राज्यपाल शासन लगा था, जिसके बाद 1986,1990,2002,2008 2015 और 2016 में जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन लगा था| इसके बाद आज पुनः यहां राज्यपाल शासन लगा है| अब जम्मू-कश्मीर से संबंधित सभी फैसले राज्यपाल एनएन वोहरा लेंगे|

भारत के अन्य राज्यों में प्रदेश की सरकार के विफल रहने पर राष्ट्रपति शासन लागू होता है, लेकिन जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन लागू होता है| जम्मू-कश्मीर के संविधान की धारा-92 के तहत राज्य में छह महीने के लिए राज्यपाल शासन लागू किया जाता है, लेकिन ऐसा राष्ट्रपति की मंजूरी के बाद ही हो सकता है जबकि देश के अन्य राज्यों में संविधान के अनुच्छेद 356 के तहत राष्ट्रपति शासन लगाया जाता है|

Share.