सीएम उद्धव ठाकरे का शपथ ग्रहण असंवैधानिक!

0

महाराष्ट्र की राजनीति मे आया तूफान अभी थमा ही था कि फिर से अब बवाल मच गया है। शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे (Shiv Sena chief Uddhav Thackeray becomes CM of Maharashtra) ने मुख्यमंत्री पद की शपथ तो ले ली है, लेकिन अब उस पर खुद राज्यपाल ने आपत्ति जताई है। महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Maharashtra Governor Bhagat Singh Koshyari) का कहना है कि सीएम उद्धव ठाकरे और उनके मंत्रियों ने संविधान का अपमान किया और शपथ गलत तरीके से ली।

उद्धव ठाकरे के मुख्यमंत्री बनते ही देवेंद्र फडणवीस को जेल!

ठाकरे के शपथ ग्रहण पर सवाल

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Maharashtra Governor Bhagat Singh Koshyari ) का कहना है कि शपथ ग्रहण में सभी ने संविधान का अपनाम किया। किसी ने बाला साहब ठाकरे (Bala Saheb Thackeray ) और शिवाजी के नाम से साथ शपथ ली तो किसी ने शपथ लेने से पहले सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नाम से शुरुआत की। अब इस मामले पर राज्यपाल का कहना है कि इस बार जो गलती हुई है उसे आगे नहीं दोहराया जाना चाहिए। वहीं राज्यपाल का बयान आने  के बाद महाराष्ट्र कि नई सरकार के समर्थकों का कहना है कि राज्यपाल ने ये आपत्ति उसी समय जतानी थी, जब समारोह हो रहा था, लेकिन उन्होने शपथ ग्रहण हो जाने के बाद आपत्ति जताई।

गोडसे भक्त प्रज्ञा पर केस दर्ज, बीजेपी ने दिखाया बाहर का रास्ता!

उद्धव ठाकरे के शपथ ग्रहण समारोह (Uddhav Thackeray’s swearing in ceremony ) में कई बड़े नेता शामिल हुए थे। जहां महाराष्ट्र में सीएम पद की शपथ ली जा चुकी है, वहीं अभी तक  मुख्यमंत्री पद पर पेंच फंस गया है। एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात के बाद अजित पवार ने कहा कि मैं आज शपथ नहीं ले रहा हूं। आज शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के छह नेता शपथ लेंगे। उप-मुख्यमंत्री पद को लेकर फैसला पार्टी लेगी। शपथ ग्रहण में कांग्रेस के राहुल गांधी और सोनिया गांधी मौजूद नहीं रहे, लेकिन दोनों ने पत्र भेजा। राहुल ने उद्धव को लिखा पत्र- मुझे खुशी है कि महाराष्ट्र विकास अघाड़ी भाजपा को हराने के लिए एकजुट हुई है जिसने लोकतंत्र को नजरअंदाज करने की कोशिश की। मुझे दुख है कि मैं समारोह में उपस्थित नहीं हो पाऊंगा।

सीएम उद्धव ठाकरे का शपथ ग्रहण असंवैधानिक!

           – Ranjita Pathare

Share.