बढ़ती जनसंख्या को लेकर ये क्या कह गए गिरिराज सिंह

0

अपने विवादित बयानों (controversial statement ) के कारण हमेशा से ही चर्चा मे बने रहने वाले भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह (Senior BJP leader and Union Minister Giriraj Singh) ने फिर कुछ ऐसा कहा कि हंगामा मच गया है। उन्होने भारत की बढ़ती जनसंख्या की तुलना ‘कैंसर के दूसरे चरण’ से की, जिसके बाद विपक्ष ने भाजपा को घेरना शुरू कर दिया है।

कड़ी सुरक्षा के बावजूद चुनाव के दौरान धमाका

बढ़ती जनसंख्या कैंसर के समान

जनसंख्या नियंत्रण पर एक संगोष्ठी मे केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह (Union Minister Giriraj Singh)  ने कहा कि यदि इसे नियंत्रित नहीं किया गया तो यह चौथे चरण में चली जाएगी और लाइलाज हो जाएगी। एक कड़ा कानून लागू करना आवश्यक है। जो लोग इसका उल्लंघन करते हैं तो उनके लिए मतदान के अधिकारों को रद्द करने और आर्थिक प्रतिबंध जैसे दंड का प्रावधान होना चाहिए (Giriraj Singh Says Rising Population Like Cancer)। जनसंख्या को नियंत्रित करने के उपायों का विरोध करने वालों ने धर्म को बीच में डाल दिया।

सरकारी स्कूल की दीवार गिरी, कई बच्चे दबे

केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने आगे कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं के बीच प्रजनन दर बहुसंख्यक से बहुत अधिक है। इसके बाद उन्होंने पूछा कि क्या यह सच नहीं है कि जहां भी बहुसंख्यक समुदाय की आबादी में गिरावट आई है, वहां सामाजिक सौहार्द बिगड़ गया है। देश में हर साल दो करोड़ बच्चे पैदा हो रहे हैं। बढ़ती जनसंख्या दूसरे चरण का कैंसर बन गई है। यह नियंत्रित नहीं है, यह बीमारी चौथे चरण में चली जाएगी ।

चीन के जैसा कानून भारत मे हो लागू

चीन का उदाहरण देते हुए गिरिराज सिंह ने कहा कि चीन की तरह भारत को भी कड़ा कानून लाना चाहिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने स्वतंत्रता दिवस के भाषण में इसकी विस्फोटक वृद्धि पर चिंता व्यक्त करते हुए जनसंख्या को नियंत्रित करने के उपायों की वकालत की थी। परिवार को पालना भी देशभक्ति का कार्य है। प्रधानमंत्री ने इस पर चिंता व्यक्त की है। जनसंख्या नियंत्रण पर कानून लाने के लिए आंदोलन की जरूरत है।

यूपी में मूसलाधार बारिश से 51 लोगों की मौत

      – Ranjita Pathare

Share.